BJP नेता का पीएम पर निशाना? बोले- जब कम हुआ कोरोना तो गंधभक्तों ने किसे दिया क्रेडिट, अब कौन लेगा जिम्मेदारी / delhi

BJP नेता का पीएम पर निशाना? बोले- जब कम हुआ कोरोना तो गंधभक्तों ने किसे दिया क्रेडिट, अब कौन लेगा जिम्मेदारी

www.lionnews.in

भारत में तेजी से बढ़ते जा रहे कोरोना वायरस के केस लगातार आम आवाम के साथ साथ केन्द्र में बैठी मोदी सरकार के लियें भी दिक्कते बड़ा रहे है। ऐसें में अपनी ही पार्टी के खिलाफ भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी का रविवार को एक ट्वीट सामने आया है। जिसमें मोदी समर्थकों को अंधभक्त और गंधभक्त तक कह दिया आपको बता दे कि पिछले में देश में 93 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए 24 घंटे हैं।

इसे भी पढ़ें - HC जबलपुर ने स्वीकार की इंक्रीमेंट और DA रोकना वाली याचिका, CS और GAD के PS को बनाया पार्टी

     राज्यसभा से भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, “पिछले साल अप्रैल में जब कोरोना वायरस के केस 1 लाख रोजाना रहे थे और फिर नवंबर में 10 हजार तक गिर गए, तब इसका अंधभक्तों और गंधभक्तों ने इसका श्रेय किसे दिया था? अब फिर कोरोना के केस फिर से एक लाख के करीब चुके है, तो इसका श्रेय कौन लेगा?” बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब सुब्रमण्यम स्वामी ने केंद्र सरकार को कोरोना से जुड़े किसी मुद्दे पर घेरा हो। हाल ही में उन्होंने कोरोना की वैक्सीन की कमी के मुद्दे पर भी सरकार पर निशाना साधा था।

इसे भी पढ़ें – पदीय कर्तव्य के निर्वहन में लापरवाही करने पर सचिव निलंबित

     स्वामी ने कहा था कि कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और हमारे पास वैक्सीन की कमी पड़ रही है। हम भारत में इस्तेमाल करने से ज्यादा वैक्सीन निर्यात कर रहे हैं। इसलिए मेरा सुझाव है कि हम जॉनसन एंड जॉनसन की एक डोज वाली वैक्सीन आयात करें। हम पहले ही अॉक्सफोर्ड-एस्ट्रा जेनेका की कोविशील्ड को ब्रिटेन से आयात कर रहे हैं, इसलिए कोई आत्मनिर्भर का मंत्रजाप नहीं चलेगा।स्वामी ने इससे पहले भी वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा, “वैक्सीन लगाने के बाद अब तक देश में कई लोगों की मौत हुई है, जिनमें से ज्यादातर की मौत कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने के बाद हुई है। इस मामले को लेकर नीति आयोग से भी रिपोर्ट मांगी गई थी लेकिन अब तक कोई जानकारी नहीं मिली है। स्वामी ने नीति आयोग को नोटिस भेज जवाब तलब करने की अपील की थी। हालांकि, इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

/ delhi      Apr 04 ,2021 15:03