अधिकारों की मांग न करे वन विभाग ले रहा स्टांप पेपर पर शपथ पत्र Bhopal / Madhya_Pradesh

अधिकारों की मांग न करे वन विभाग ले रहा स्टांप पेपर पर शपथ पत्र

www.lionnews.in

भोपाल। वन विभाग में दैनिक वेतन भोगी सुरक्षा श्रमिक बिगत 10 - 15 वर्षों से सेवा दे रहे हैं। उनकी इस सीनियर्टी का लाभ उनको मिले इसके लिए वन मंत्री कुवर विजय शाह ने पिछले दिनों निर्देश दिये थें। अब आला अधिकारी अधिकारों की मांग न करे शशर्त स्टांप पेपर पर शपथ पत्र ले रहे हैं। मामला संजय टाइगर रिजर्व सीधी बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व उमरिया का है। जहा यह वड़ी तत्परता के साथ हो रहा है। 

            वन विभाग में प्रदेश के सबसे निचले और पिछड़े वर्ग के स्थाई कर्मियों सुरक्षा श्रमिकों के साथ विभाग के आला अधिकारियों द्वारा तानाशाही अन्याय अत्याचार शोषण करना आम बात हो गई है। वन विभाग में अभी आला अधिकारियों द्वारा जो दैनिक वेतन भोगी सुरक्षा श्रमिक बिगत 10-15 वर्षों से विभाग में वन एवं वन्य प्राणियों की सुरक्षा में तैनात हैं उनसे सो रुपए के स्टांप पेपर में शपथ पत्र देने के लिए कहा जा रहा है कि आप किसी भी प्रकार का श्रम साध्य कार्य करने के लिए तैयार है और 24 घंटे मैं इसके अतिरिक्त अन्य किसी प्रकार का कार्य करने के लिए मना नहीं करेंगे और वेतन भत्ता सीनियरिटी नियमितीकरण बोनस आदि की मांग नहीं करेंगे आप साप्ताहिक अवकाश की मांग नहीं करेंगे समय से वेतन ना मिलने पर आप वेतन की मांग भी नहीं करेंगे और आपकी सेवाएं कभी भी समाप्त कर दी जाएंगी उसका विरोध भी नहीं करेंगे यह सब कार्यवाही संजय टाइगर रिजर्व सीधी बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व उमरिया में बड़ी तत्परता के साथ की जा रही है। और यह शपथ पत्र न देने पर सेवा से पृथक करने की धमकी भी दी जा रही  है।  वन मंत्री कुंवर विजय शाह द्वारा निर्देश विभाग के संबंधित अधिकारियों को दिया गया है कि जो दैनिक वेतन भोगी सुरक्षा समेत 10 या 15 वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके हैं उनकी वरीयता सूची बनाकर उन्हें कुशल श्रमिक का भुगतान किया जाए इस निर्देश के बाद विभाग के आला अधिकारी सकते में आ गए है। और अब शपथ पत्र के माध्यम से कर्मचारियों में भय और आतंक पैदा कर रहे  है।

इसे भी पढ़ें:- कर्मचारियों का इंक्रीमेंट और डीए रोकना पड़ सकता है शिवराज सरकार को भारी

 

उर्दू ड्रामा फेस्टिवल 30-31 को मार्च भोपाल में, होगी लाइव स्ट्रीमिंग

     मध्य प्रदेश स्थाई कर्मी कल्याण प्रांत अध्यक्ष शारदा सिंह परिहार ने कहां है की यदि कर्मचारियों को जबरजस्ती शपथ पत्र देने के लिए मजबूर किया जाएगा तो वह दिन दूर नहीं जब हम स्वयं उपस्थित होकर संजय टाइगर रिजर्व सीधी और बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व सीधी में तालाबंदी कर इस अन्याय का विरोध करेंगे इसकी जिम्मेदारी मध्यप्रदेश शासन वन विभाग की होगी।

 

Bhopal / Madhya_Pradesh      Mar 28 ,2021 16:23