5 राज्य का मोस्ट वांटेड़ किडनैपिंग किंग एमपी में पकड़ाया, 9.5 करोड़ की फिरौती वसूल कर आया था चर्चा में / Madhya_Pradesh

5 राज्य का मोस्ट वांटेड़ किडनैपिंग किंग एमपी में पकड़ाया, 9.5 करोड़ की फिरौती वसूल कर आया था चर्चा में

www.lionnews.in

भोपाल। मध्य प्रदेश के सिगरौली जिलें में पांच राज्यों का मास्ट वांंटेड बिहार का किडनैपिंग किंग चंदन सोनार अब गिरफ्तार हो गया है। उसको घर से पकड़ा है। जब उसकी गिरफ्तार हुई उस समय लोकल पुलिस भी भौचक्की रह गई। बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, गुजरात और पश्चिम बंगाल जैसे राज्य इस किडनैपिंग किंग की तलाश में थें। पिछले 10 सालों से सिंगरौली में चंदन सोनार अपनी पहचान बदलकर रह रहा था। चंद्रमोहन उर्फ चंदन सोनार, शहर में होटल कारोबारी के तौर पर अपनी पहचान बना चुका था। सिंगरौली में चंदन ने कोई क्राइम नहीं किया। यही वजह रही कि पुलिस के रिकार्ड में उसका कभी नाम नहीं आया।

चंदन के बारे में तब पता लगा जब वह बंगाल पुलिस के निशाने पर आया। बंगाल पुलिस चंदन सोनार को बर्धमान के एक व्यापारी के अपहरण के मामले में तलाश रही थी। लॉयन न्यूज को मिली जानकारी के अनुसार बंगाल पुलिस को यह खबर मिली कि चंदन सिंगरौली में छिपा है। इसके बाद बंगाल की पुलिस ने सिंगरौली पुलिस की मदद से उसे उसके घर से ही धर दबोचा। किडनैपिंग किंग के तौर पर कुख्यात चंदन सोनार के खिलाफ अलग-अलग राज्यों में अपहरण के 40 मामले दर्ज हैं। वह मूल रूप से बिहार के हाजीपुर जिले का रहने वाला है। चंदर का आतंक बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, गुजरात और पश्चिम बंगाल तक फैला था।

        चंदन सोनार का आतंक इस कदर था कि उसका नाम सुनते ही बिहारृ, झारखंड, छत्तीसगढ़, गुजरात और बंगाल के कई उद्योगपति और व्यापारी कांप जाते थे। कई व्यापारियों का अपहरण कर वह करोड़ों की फिरौती वसूल चुका है। लेकिन उसका नाम सुर्खियों में तब आया जब उसने 2013 में गुजरात के हीरा व्यवसायी सोहैल हिंगोरा का अपहरण किया। उसने सोहैल को एक माह तक छपरा में रखा और फिर बाद में उसके पिता हनीफ से 9.5 करोड़ रुपए की फिरौती मिलने के बाद छोड़ा। इस मामले के बाद बिहार पुलिस ने उस पर 1 लाख, गुजरात ने 10 लाख का इनाम घोषित किया था। बंगाल पुलिस ने भी एक अपहरण के मामले के बाद उस पर 10 लाख का इनाम रखा था।

 

/ Madhya_Pradesh      Mar 13 ,2021 16:58