अब्दुल्लागंज डिवीज़न में कट रहे लाखों पेड़, डीएफओ को कानों-कान खबर नहीं: MP / Madhya_Pradesh

अब्दुल्लागंज डिवीज़न में कट रहे लाखों पेड़, डीएफओ को कानों-कान खबर नहीं: MP

www.lionnews.in

केवल कृष्ण त्रिपाठी, प्रमोद दुबे, भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लगा अब्दुल्लागंज डिवीज़न हैं। इस डिवीज़न की भोजपुर सर्कील के उत्तर अरमथौन वीट में पिछलें 15 दिन से दमक में बनी गौउशाल के ठीक पीछें नाकेदार की लालच के चलते हजारों पेड़ कट गये। लॉयन न्यूज़ को मिली जानकारी के अनुसार अब तक पेड़ों का कटना जारी है। वहीं अब्दुल्लागंज डिविजन को इसकी भनक तक नहीं है।

     मण्डीदीप में अतिक्रमण का मामला हो या जंगल में पेड़ कटने का मामला अब्दुल्लागंज डिवीज़न के आला अधिकारी अपनी मस्ती में मस्त है। इस डिवीज़न की भोजपुरा सरकील में पहले मयंक सिंह गुजर रंजर थें जो अब हैदराबाद चले गये है। उनकी जगह संजय सिंह राजपुर आये है। उन्होंने अब तक प्रभार ग्रहण नहीं किये है। इसका फायदा नाकेदार उठा रहा है। प्रभात यादव यहा नाकेदार है। उनके पास भोजपुर सर्कील के उत्तर अरमथौन वीट  का काम है। सूत्र कहता है कि नाकेदार प्रभात ने गांव वालों को जंगल की जमीन पर कब्जा कर अतिक्रमण की नियत से पेड़ों को काटने की छुट दे दी है। इसके एवज में उनसें 50- 50 हजार रूपये लिये है। लॉयन न्यूज़ को मिली जानकारी के अनुसार अब तक पेड़ों का कटना जारी है। वहीं अब्दुल्लागंज डिवीज़न को इसकी भनक तक नहीं है। लॉयन न्यूज के पास ग्रामीणों से नाकेदार की साठगाठ के प्रमाण भी हैं। इतना ही नहीं अब्दुल्लागंज डिवीज़न में जगह जगह पर अतिक्रमण किया जा रहा है। डिवीज़न के कुछ अधिकारियों से मिलीभगत होने की जानकारी लॉयन न्यूज को लगातर मिल रही है। देखना होगा कि इसमें कही भोपाल सीसीएफ आफिद का संरक्षण तो नहीं है।

/ Madhya_Pradesh      Feb 08 ,2021 05:30