नोटबंदी के 4 साल पूरे होने पर बोले PM मोदी, उधर NSUI कार्यकर्ताओं ने RBI दफ्तर के बाहर की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी / delhi

नोटबंदी के 4 साल पूरे होने पर बोले PM मोदी, उधर NSUI कार्यकर्ताओं ने RBI दफ्तर के बाहर की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

www.lionnews.in

नोटबंदी के चार साल पूरे होने पर पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर अपने निर्णय का बचाव किया। पीएम ने कहा कि चार साल पहले नोटबंदी के फैसले के बाद काले धन को कम करने, कर अनुपालन और पारदर्शिता को बढ़ावा देने में मदद मिली है। पीएम ने कहा कि ये नतीजे राष्ट्रीय प्रगति के लिए बहुत फायदेमंद रहे हैं। पीएम ने रविवार को ट्वीट कर ये बातें कहीं। पीएम ने ट्वीट के जरिये तीन ग्राफ भी पोस्ट किए। वहीं इस मौके पर एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने अर्थव्यवस्था की अर्थी निकालकर नोटबंदी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए भारी पुलिस बल की तैनाती की गई। जिससे हंगामे की स्थिति रही। पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया है। PM नरेंद्र मोदी ने अपने निर्णय का बचाव करते हुए एक बार फिर रविवार को ट्वीट के जरिये तीन ग्राफ पोस्ट किए। इनमें नोटबंदी के बाद भारत में कर/जीडीपी में सुधार, अर्थव्यवस्था की नकदी पर निर्भरता में कमी, नोटबंदी के बाद नकली नोटों की जब्ती के बारे में बताया गया। वहीं, एनएसयूआई ने नोटबंदी के खिलाफ यह विरोध प्रदर्शन अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन के नेतृत्व में किया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर रविवार को केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए आरोप लगाया। राहुल ने कहा कि चार साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस कदम का मकसद अपने कुछउद्योगपति मित्रों की मदद करना था और इसने भारतीय अर्थव्यवस्था कोबर्बादकर दिया। राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी PM की सोची समझी चाल थी ताकि आम जनता के पैसे सेमोदी-मित्र पूँजीपतियों का लाखों करोड़ रुपय क़र्ज़ माफ़ किया जा सके। उन्होंने आगे लिखा कि गलतफहमी में मत रहिए- गलती हुई नहीं, जानबूझकर की गयी थी। इस राष्ट्रीय त्रासदी के चार साल पर आप भी अपनी आवाज़ बुलंद कीजिए। मालूम हो कि गांधी और कांग्रेस आरोप लगाते रहे हैं कि 2016 में की गई नोटबंदी लोगों के हित में नहीं थी और इसने अर्थव्यवस्था पर विपरीत असर डाला है। इस आरोप का सरकार ने बार-बार खंडन किया है।

/ delhi      Nov 08 ,2020 15:44