MP: उपचुनाव में 355 प्रत्याशी, 39 के खिलाफ गंभीर अपराध के केस Bhopal / Madhya_Pradesh

MP: उपचुनाव में 355 प्रत्याशी, 39 के खिलाफ गंभीर अपराध के केस

www.lionnews.in

आंनद त्रिपाठी, भोपाल। मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव है। जिसमें 355 प्रत्याशियों में से 18 फीसदी ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी दी है। एशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स के अनुसार 39 के खिलाफ गंभीर अपराध के केस दर्ज है।  बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही प्रचार में पूरी ताकत झोंक रही हैं। उपचुनाव इसलिए भी अहम हैं क्योंकि इस चुनाव के फैसले से तय होगा कि आगे मध्यप्रदेश में किसकी सरकार रहेगी।

 

इसे भी पढ़ें:-

कांग्रेस का MLA भाजपा में शामिल, दिग्विजय बोले- मामा के झोले की काली कमाई में एक और विधायक बिका

चुनाव में 355 उम्मीदवार मैदान में हैं। 39 के खिलाफ गंभीर किस्म के आपराधिक मुकदमें हैं। ये केस गैरजमानती हैं और पांच साल कैद की सजा वाले हैं। पोल राइट्स ग्रुप के मुताबिक अपने ऐफिडेविट में कांग्रेस के कुल 28 प्रत्याशियों में से 14 ने और बीजेपी के 12 प्रत्याशियों ने क्रिमिनल केस डिक्लेयर किए हैं। बीएसपी के 8, एसपी के कुल 14 प्रत्याशियों में से चार, 178 निर्दलीय उम्मीदवारों में से 16 ने खुद के खिलाफ आपराधिक मुकदमे होने की जानकारी दी है। एशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स के अनुसार कांग्रेस के 6 कैंडिडेट, बीजेपी के 13 प्रत्याशी और निर्दलीय 13 प्रत्याशियों ने खुद पर आपराधिक मुकदमे होने की बात कही है। एक प्रत्याशी ने हत्या (IPC 302) के मुकदमे और सात प्रत्याशियों ने हत्या की कोशिश (IPC 307) के मामलों के बारे में ऐफिडेविट में बताया। 28 विधानसभा सीटों में से 10 सीटें रेड अलर्ट हैं। रेड अलर्ट सीट वे होती हैं जिनमें तीन या ज्यादा प्रत्याशियों पर आपराधिक मुकदमे दर्ज होते हैं।

Bhopal / Madhya_Pradesh      Oct 25 ,2020 15:21