कृषि क़ानून समाप्त करने का महागठबंधन का वादा-घोषणा पत्र जारी, बिहार चुनाव की बड़ी ख़बरें / delhi

कृषि क़ानून समाप्त करने का महागठबंधन का वादा-घोषणा पत्र जारी, बिहार चुनाव की बड़ी ख़बरें

नई दिल्ली। महागठबंधन ने बिहार चुनाव में साझा घोषणापत्र जारी किया है। इसमें 25 सूत्रीय साझा कार्यक्रम तय हुआ है। महागठबंधन पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव, बिहार कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल और कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवालाब ने साझा घोषणापत्र को प्रेस के सामने रखा। सुरजेवाला ने कहा कि अगर तेजस्वी यादव के नेतृत्व में बिहार में सरकार बनती है तो महागठबंधन तीन कृषि विरोधी कानूनों को समाप्त करने के लिए पहले विधानसभा सत्र में एक विधेयक पारित करेगा.

सुरजेवाला ने कहा, ध्यान भटकाने के लिए भाजपा नफरत की फैक्ट्री में विवाद बना रही है. हमारे जाले के उम्मीदवार ने जिन्ना की विचारधारा का कभी साथ नहीं दिया. जब वह एएमयू के छात्र थे, तो उन्होंने एएमयू, संसद और बॉम्बे हाई कोर्ट से जिन्ना के चित्र हटाने के लिए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा था लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने कभी इसका जवाब नहीं दिया. इस घोषणापत्र में 10 लाख स्थाई नौकरियों की समय पर बहाली की प्रक्रिया को पहली ही कैबिनेट बैठक से शुरू करने का वादा किया गया है. शिक्षा क्षेत्र पर ध्यान देते हुए बजट का 12 प्रतिशत इस पर खर्च किया जाएगा. प्राथमिक स्कूलों में 30 बच्चों और माध्यमिक स्कूलों में 35 बच्चों पर एक शिक्षक होंगे. वहीं, मनरेगा के तहत प्रति परिवार के बजाय प्रति व्यक्ति को 100 से बढ़ाकर 200 दिन प्रतिवर्ष काम दिया जाएगा. मनरेगा की ही तर्ज पर राज्य की रोजगार योजना बनाने का भी आश्वासन दिया गया हैं।

 

/ delhi      Oct 17 ,2020 17:17