ऑडियो वायरल हिस्ट्रीशीटर से लोकल एसओ के अपराधी से हैं लिंक / delhi

ऑडियो वायरल हिस्ट्रीशीटर से लोकल एसओ के अपराधी से हैं लिंक

www.lionnews.in

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे और उसके पांच सहयोगियों के एनकाउंटर और आठ पुलिसकर्मियों की हत्या की जांच आयोग जांच पड़ताल कर रहा है। मारे गए डिप्टी एसपी देवेंद्र मिश्रा और कानपुर एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव के बीच कथित बातचीत का एक ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है। यह अॉडियो क्लिप चौबेपुर थाने के तत्कालीन स्थानीय स्टेशन अधिकारी एसओ विनय तिवारी और कानपुर के पूर्व एसएसपी अनंत देव तिवारी के लिए मुसीबत का कारण बन सकता है।

         वायरल ऑडियो क्लिप दो जुलाई की रात का बताया जा रहा है। यह बातचीत विकास दुबे के घर पर दबिश देने के कुछ देर पहले की है। इसी छापेमारी में मिश्रा सहित आठ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी। क्लिप में मिश्रा को श्रीवास्तव से यह कहते हुए सुना जा रहा है कि एसओ विनय तिवारी कह रहे हैं कि सीओ मिश्रा के मौके पर पहुंचने के बाद ही छापेमारी शुरू होगी। इस क्लिप में मिश्रा को पूर्व एसएसपी अनंत देव तिवारी के खिलाफ आरोप लगाते हुए भी सुना गया है। मिश्रा कह रहे हैं कि उनके द्वारा जुआ रैकेट का भंडाफोड़ किया गया था। जिसके बाद चैबेपुर थानेदार विनय तिवारी ने कार्यवाही नहीं करने के लिए तत्कालीन एसएसपी अनंत देव तिवारी को पांच लाख रुपये दिए थे। मिश्रा ने स्पष्ट रूप से कहा ‘‘एसओ कह रहा है कि मेरे वहां पहुंचने के बाद ही वह छापेमारी के लिए जाएंगे। इसलिए, मैं जा रहा हूँ।श्रीवास्तव ने कहा ‘‘आप चिन्ता करें। मैं बहुत जल्द इन लोगों को देखता हूं और उन सभी की सूची तैयार करूंगा जो यह कर रहे है। एसएसपी ने उन्हें गिरफ्तारी करने के लिए कहा होगा। आप अपने दिमाग का इस्तेमाल करें और दो-तीन थानों की फोर्स लेकर जाएं, क्योंकि हमारे पास विकास दुबे को पकड़ने का एक बड़ा मौका है।

Read More…

विधानसभा अध्यक्ष ने रचना नगर टॉवर के आवासों का निरीक्षण कर दिए शीघ्र आधिपत्य के निर्देश

17 मोटरसाइकिल के साथ, पुलिस ने पकड़ा वाहन चोर गिरोह... जानियें कहा का है मामला

वन विभाग का उड़नदस्ता प्रभारी कर रहा वैध को अवैध बता कर वसूली

रायसेन नगरीय निकायों में संचालित योजनाओं की समीक्षा बैठक आज

1 नेशन-1 राशन कार्ड, जारी की जायेगी भोपाल जिले में पात्र परिवारों और सदस्यों की पात्रता पर्ची

PTS उज्जैन द्वारा चाईल्ड पोर्नोग्राफी रेप एण्ड गैंग रेप इमेजरी पर तीन दिवसीय आनलाइन प्रशिक्षण प्रारंभ

सूरत की स्थिति हुई बद से बदतर- कोरोना पर बीजेपी सरकार, सूरत प्रशासन की खिंचाई कर बोला गुजरात हाई कोर्ट

      डीएसपी ने कहा कि एसओ जुआ करवा लाखों रुपये वसूलता था जिसे उन्होंने खुद पकड़ा। रिपोर्ट भेजी लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। डीएसपी ने कहा कि एसओ ने जुआ के आरोपियों को डराया कि तुम पर गैंगस्टर लग जाएगा। जिसके बाद उनसे पांच लाख रुपये देकर एसएसपी को दे दिए।

/ delhi      Aug 07 ,2020 04:48