10 हेक्टेयर में बनी सम्पत्ति राज्य सरकार हीरा कंपनी को देने की तैयारी में BHOPAL / Madhya_Pradesh

10 हेक्टेयर में बनी सम्पत्ति राज्य सरकार हीरा कंपनी को देने की तैयारी में

01-जनवरी-2020

@lionnews.in

भोपाल। प्रदेश की हीरा खदान से करीब 5 किलोमीटर की दुरी पर छतरपुर जिले की बंदर खदान के समीप पूर्व में संचालित कंपनी रियों टिंटों के दफ्तर, मकान और मशीनरी सिस्टम लगभग 10 हेक्टेयर में बनी इस सम्पत्ति को अब राज्य सरकार बिरला समूह की एस्सल माइनिंग एंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड को देने की तैयारी में है। बिड़ला को यह जमीन किराये पर उपलब्ध कराई जायेगी। इस सेटअप की सरकार से मांग बिड़ला कंपनी ने की थी, जिसके बाद अब खनिज विभाग बिड़ला ग्रुप की एस्सेल माइनिंग एण्ड इंडस्ट्री लिमिटेड को देने का मन बना लिया है। इसके लिए जल्द ही खनिज विभाग संपत्ति का वेल्युवेेशन करायेगा। इसके बाद ही सम्पत्ति का किराया तय किया जाएगा। विभाग को अनुमान है कि यहा से एक अच्छा किराया प्रदेश सरकार को मिलेगा।

Read this....

 रीपर वाले हार्वेस्टर से फसल कटाई पर लगेगी रोक, भोपाल का एयर क्वालिटी इंडेक्स खराब

खनिज विभाग बिरला समूह की एस्सल माइनिंग एंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड को हर सम्भव मदद कर रहा है। विभाग के आला अधिकारियों की माने तो खदान में प्रचुक मांत्रा में हीरा है। कंपनी जितनी ज्लदी काम शुरू करेगी उतना प्रदेश के हित में है। राज्य सरकार ने लेटर अॉफ इंडेंट(आशय पत्र) जारी कर दिया है। इस खनिज खण्ड में 34.2 मिलियन कैरट हीरा निकलने का अनुमान है, जिसका बाजार भाव 55 हजार करोड़ से ज्यादा है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इस ठेके से सरकार के खनिज विभाग को 6000 करोड़ रूपए रायल्टी और 16000 करोड़ रूपए अतिरिक्त प्रीमियम के रूप में मिलेंगे।

BHOPAL / Madhya_Pradesh      Jan 01 ,2020 16:39