रोहित गृह निर्माण सहकारी समिति के संचालक मंडल पर गबन का आरोप, हुई FIR दर्ज / Madhya_Pradesh

रोहित गृह निर्माण सहकारी समिति के संचालक मंडल पर गबन का आरोप, हुई FIR दर्ज

@lionnews.in

भोपाल। आर्थिक अपराध अन्र्वेषण ब्यूरो ने रोहित गृह निर्माण सहकारी समिति के 2005 के बाद के समस्त संचालक मंडल सदस्यों को आरोपी बनाय है। इसमें एक बड़ा नाम भाजपा नेता घनश्याम सिंह राजपूत का है। सहकारिता विभाग ने जून में ही ईओडब्लयू को पत्र लिखकर इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की थी।

      ईओडब्ल्यू ने प्राथमिकी जांच दर्ज कर मामले की जांच की तो पाया गया कि संस्था के सदस्यों से भूखंड के नाम पर बड़ी राशि ड्राफ्ट के जरिए लेकर संस्था के खाते से अवैध रूप से निकाल ली गई। कुल 22.70 करोड़ रुपए की राशि खुर्दबुर्द की गई। इस गड़बड़ी को छुपाने के लिए संस्था के संचालक मंडल ने अभिलेख/ दस्तावेज वकील एवं लेखापाल की मदद से गायब कर दिए।

 

इनके खिलाफ हुई एफआईआर

 

ईओडब्ल्यू ने 2005 के बाद के समस्त संचालक मंडल सदस्यों को आरोपी बनाय है। इनमें तुलसीराम चंद्राकर, मो. आय्यूब खान, घनश्याम सिंह राजपूत, केएस ठाकुर, एलएस राजपूतए बसंत जोशी, सुरेंद्रा, ज्योति तारण, अमरनाथ मिश्रा, अनिल कुमार, रेवत सहारे, अमित ठाकुर, एमडी सालोडकरए,गिरीशचन्द्र कांडपाल, अरूण भागोलीवाल, बाल किशन निवावे, सीएस वर्मा, सविता जोशी, सुशीला पुरोहित, राम बहादुरए, कुमार सीमा सिंह, वकील सुशील , लेखापाल राकेश प्रताप एवं अन्य शामिल हैं। इनके विरूद्ध धारा 420, 406, 120-बी, 467, 468, 471 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।

 

/ Madhya_Pradesh      Dec 13 ,2019 17:12