सरदार पटेल को किया याद आयोजित हुआ राष्ट्रीय एकता दिवस / Madhya_Pradesh

सरदार पटेल को किया याद आयोजित हुआ राष्ट्रीय एकता दिवस

@lionnews.in

भोपाल। सरदार वल्लभ भाई पटेल को सांची बौद्ध.भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में उनके जन्मदिवस पर राष्ट्रीय एकता दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर सरदार पटेल के जीवन और राष्ट्र एकता में उनकी भूमिका पर प्रकाश डाला गया। योग विभाग के प्रभारी डॉ उपेन्द्र बाबू खत्री ने कहा कि भेद की नीति राष्ट्र संकल्पना का हिस्सा नहीं है। उन्होने कहा कि राष्ट्र और एकता शब्द अलग है किंतु मूल अवधारणा एक है जिसमें राष्ट्र भौगोलिक सीमा से परे एक संकल्पना है। इस अवसर पर संस्कृत विभाग के डॉ विश्वबंधु ने कहा कि भारतीय संस्कृति में राष्ट्र की अवधारणा सबसे पहले ऋग्वेद में मिलती है जहा राष्ट्र देवी की प्रार्थना की गई है। उन्होने कहा कि सरदार पटेल ने भारत की अस्मिता को अक्षुण्ण रखने में अपनी भूमिका निभाई। भारतीय दर्शन के डॉ नवीन दीक्षित ने कहा कि एकता विविधता को खत्म करने वाली नहीं होनी चाहिए और सरदार पटेल पश्चिमी एकता के पैमाने की बजाय भारत का अपना पैमाना रखते थे जिसमें राज्यों को सांस्कृतिक एवं संप्रभु अधिकार मिले और भारत की विविधता कायम रही। उन्होने कहा कि सरदार पटेल ने पश्चिमी विद्वानों के भारत के आजाद होने के बाद विखंडन की आशंकाओं को निराधार साबित किया। सांची विवि के अकादमिक समन्वयक डॉ मुकेश कुमार वर्मा ने कहा कि सरदार पटेल ने 562 रियासतों को मिलाकर भारत की बहुत बड़ी सेवा की है। उन्होने जम्मू कश्मीर को भारत में बनाए रखने में सरदार पटेल की भूमिका पर भी प्रकाश डाला।

/ Madhya_Pradesh      Oct 31 ,2019 15:39