सरकार को क्या करना चाहिए, सड़कों पर उतरकर भाजपा दिलाएगी यादः जयंत मलैया Damoh / Madhya_Pradesh

सरकार को क्या करना चाहिए, सड़कों पर उतरकर भाजपा दिलाएगी यादः जयंत मलैया

दमोह। भाजपा जिला मीडिया प्रभारी मनीष तिवारी व जिला सह मीडिया प्रभारी मोन्टी रैकवार ने जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय जनता पार्टी जिला दमोह के द्वारा कांग्रेस की वादाखिलाफी के विरोध में मध्यप्रदेश सरकार के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया,भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव,सांसद प्रतिनिधि डाॅ.आलोक गोस्वामी,दमोह नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी के नेतृत्व मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम का मांग पत्र दमोह कलेक्टर श्री तरूण कुमार राठी व पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह को सौपा गया। इस दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री जयंत मलैया ने अपनी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में जनता के हितों को छोड़कर बाकी सब काम हो रहा है, जो प्रदेश में पहले कभी नहीं हुआ। इस सरकार में किसी चीज का यूज नहीं हो रहा है, हर चीज का मिसयूज ही हो रहा है। अभी तक भारतीय जनता पार्टी अपने सदस्यता अभियान में व्यस्त थी, लेकिन अब यह अभियान पूर्णता पर है। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी सड़कों पर उतरेगी और कांग्रेस की सरकार को यह याद दिलाएगी कि उसे क्या करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर व्यवस्थित होना चाहिए, लेकिन नहीं है। किसानों का कर्जा माफ होना चाहिए। उनके सामने यह स्पष्ट होना चाहिए कि उनका कर्ज कब तक माफ होने वाला है। किसानों को बोनस का भुगतान होना चाहिए, लेकिन नहीं हुआ। उनकी फसलों का हुए नुकसान की भरपाई अब तक नहीं हो पाई। कांग्रेस ने प्रदेश के युवाओं के साथ जो धोखा किया है, वह आज सबके सामने है। श्री मलैया ने कहा कि हम केवल इतना ही कहना चाहते हैं कि कांग्रेस की सरकार को अब चेत जाना चाहिए। अब समय आ गया है। भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की जो सरकार है, देखने में उसका एक मुख्यमंत्री है लेकिन कई और मुख्यमंत्री हैं, जो अदृश्य हैं। हालत यह है कि रोज ही कोई न कोई किसी को अल्टीमेटम दे रहा है। कब किस मुख्यमंत्री के मार्गदर्शन में कौन सी गतिविधि शुरू हो जाए, यह कहना कठिन है। अनेकों मुख्यमंत्री होने के कारण प्रशासनिक अधिकारियों के सामने भ्रम की स्थिति है। उन्हें समझ नहीं आता कि वह किस मुख्यमंत्री के पास कौन सा मार्गदर्शन लेने जाएं। दमोह सांसद प्रतिनिधि डाॅ.आलोक गोस्वामी ने कहाँ कि प्रदेश के विकास को लेकर कांग्रेस के विधायक व मंत्री कुछ करते हुए दिखाई नहीं दे रहे हैं। सरकार का सारा कामकाज ट्रांसफर-पोस्टिंग के इर्दगिर्द चल रहा है, अवैध उत्खनन को लेकर चल रहा है। सरकार में पैसों की बंदरबाट चल रही है और उसमें जिसका हिस्सा कम हो जाता है, वह शिकायत करने लगते हैं। दमोह नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ से यह पूछा जाना चाहिए कि सारी चीजें दिशा से हटकर क्यों हो रही हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1 साल से हितग्राहियो के खाते मे राशि ने डाली गई है मध्यप्रदेश की सरकार अपने हिस्से की राशि देने मे आनाकानी कर रही हैं। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रधानमंत्री आवास योजना की मध्यप्रदेश सरकार की राशि हितग्राहियो के खाते मे डाली जाए। इस दौरान जब मांग पत्र का वाचन भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव कर रहे थे। तब बीच-बीच मे पूर्व मंत्री जयंत मलैया एक-एक मांग पर कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को अवगत करा रहे थे। कि हमारी सरकार ने ये काम किया अब नई सरकार जनता का गला घोट रही है। किसानों के लिए कर्जमाफी मे उलझा रखा है।,दमोह मे दिन दहाड़े महिला की हत्या के साथ बिगड़ती कानून व्यवस्था,हिंडोरिया मे मुख्यमंत्री कन्या दान योजना के तहत किये सामुहिक विवाह सम्मेलन मे फर्जी जोड़ो की शादी कर डाली जिनकी एक बार शादी हो गई आयोजकों ने द्वारा शादी करवा डाली, दमोह की महत्वाकांक्षी योजना सतधर,साजली,सीतनगर जैसी कार्य योजना अब बंद पड़ी है।दमोह मे विकास का पहिया थम गया है।स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमारी सरकार दो लाख रुपये इलाज को देती थी।लेकिन मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार ने वह बंद कर दिए है।साथ ही छात्र और छात्राओं को लेपटाप,बेरोजगारी भत्ता और अघोषित बिजली कटौती से दमोह की जनता परेशान हो रही है।औथ कांग्रेस के विधायक और मंत्री मस्त पड़े है। उन्हें प्रदेश और दमोह की जनता की चिंता नही है। इस दौरान उपस्थित भाजपा कार्यकर्ताओं का आभार भाजपा जिला महामंत्री रमन खत्री के द्वारा व्यक्त किया गया। इस दौरान प्रमुख रूप से भाजपा के वरिष्ठ नेता जयंत मलैया,भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्र
Damoh / Madhya_Pradesh      Sep 05 ,2019 13:02