निरीक्षण में शालायें बंद ना मिलें अन्यथा होगी कड़ी कार्रवाही- कलेक्टर राठी Damoh / Madhya_Pradesh

निरीक्षण में शालायें बंद ना मिलें अन्यथा होगी कड़ी कार्रवाही- कलेक्टर राठी

सुरेश नामदेव दमोह : कलेक्टर तरूण राठी ने कहा शिक्षा व्यवस्था सुदृण करना है, इसमें गुणात्मक सुधार के लिए हर संभव कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा बच्चों का भविष्य सुनहरा बनाना है। मुझे अब निरीक्षण में शालायें बंद ना मिलें तथा सभी छात्रों को नई पुस्तकें मुहैया करा दी जायें। श्री राठी आज शाम जिला कार्यालय सभाकक्ष में शिक्षा विभाग की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा विशेष रूप से मौजूद रहे। कलेक्टर तरूण राठी ने कहा कि नियमित स्कूलों के निरीक्षण के दौरान शिक्षक अनुपस्थित मिलेंगे, तो उन्हें सेवा से पृथक करने की कार्रवाही की जायेगी। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी से कहा एक टोल फ्री नम्बर स्थापित किया जायें, जिसमें अभिभावक और ग्रामीणजन स्कूल संबंधी जानकारी दे सकें। साथ ही यह भी कहा कि शिक्षकों को जिला स्तर से प्रतिदिन रेण्डमली फोन लगाया जाये और शिक्षकों से चर्चा की जायें और यह भी कहा जायें कि स्कूल के छात्रों से भी बात कराई जायें। कलेक्टर ने कहा अभी बीते दिनों जिला स्तर से अधिकारियों को भेजकर 51 शालायें चेक कराई गई, इसमें 54 शिक्षक अनुपस्थित मिलें, इनकी एक-एक वेतनवृद्धि रोकी जा रही है। इसकी सेवा पुस्तिका में भी इंट्री कराई जायेगी। बैठक में कलेक्टर ने कहा इस तरह के निरीक्षण अब सतत् होते रहेगें। शिक्षा विभाग के बी.आर.सी और बी.ई.ओ.के. निरीक्षण की जानकारी लेते हुए कहा कि वे इस निरीक्षण से संतुष्ट नहीं है। पथरिया के बी.आर.सी ने कहा कि वे चार शिक्षकों के विरूद्ध सेवा समाप्ति की कार्रवाही का प्रस्ताव भेज रहे है, उन्होंने इसकी वजह से भी अवगत कराया। बैठक में सीईओ जिला पंचायत डॉ. गिरीश मिश्रा ने कहा विभाग के अधिकारियों का तब तक वेतन नहीं दिया जायेगा, जब तक प्रभावी कार्यवाही न हो। उन्होंने कहा सभी को निरीक्षण पत्रक दिया जा रहा है, उसके अनुसार कार्रवाही करें। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी पी.पी.सिंह सहित सभी खण्ड शिक्षा अधिकारी और बी आर सी तथा संकुल प्राचार्य मौजूद रहे।
Damoh / Madhya_Pradesh      Jul 11 ,2019 13:50