Budget 2019: वित्‍त मंत्री ने ‘नारी तू नारायणी' के नाम पर सुनाई लंबी चौड़ी बाते, पर देने के नाम पर थमाया झुनझुना / Madhya_Pradesh

Budget 2019: वित्‍त मंत्री ने ‘नारी तू नारायणी' के नाम पर सुनाई लंबी चौड़ी बाते, पर देने के नाम पर थमाया झुनझुना

केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 5 जुलाई (2019) को पेश किया। वित्‍त मंत्री ने भाषण में ‘नारी तू नारायणी’ नाम से महिलाओं के लिए एक अध्‍याय रखा। पांच प्‍वाइंट्स (76-80) में नारी के बारे में व्‍याख्‍यान दिया, लेकिन फायदे के नाम पर महिलाओं को लगभग शून्‍य ही मिला। वित्‍त मंत्री ने कहा कि महिलाओं के फायदे के मद्देनजर लिंग के आधार पर बजटीय आवंटन करीब एक दशक से किया जाता रहा है, अब इस प्रकिया को और आगे बढ़ाने के लिए एक विस्‍तृत कमेटी बनाए जाने का प्रस्‍ताव है। इसमें सरकारी और निजी क्षेत्रों के संबंधित लोगों को रखा जाएगा।

                   वित्‍त मंत्री ने मुद्रा और स्‍टैंड अप योजनाओं का नाम भी महिलाओं को फायदा देने वाली योजनाओं में जोड़ दिया। स्‍वयं सहायता समूहों (एसएचजी) के जरिए महिलाओं की उद्यमिता को बढ़ावा देने के मकसद से प्रस्‍ताव किया गया कि इसका विस्‍तार देश के सभी जिलों में किया जाता है। इसके अलावा प्रत्‍येक एसएसचजी से एक महिला को मुद्रा योजना के तहत एक लाख रुपए तक का लोन लिए जाने की पात्रता देने की भी घोषणा हुई। इसके अलावा जनधन खाताधारक महिलाओं को पांच हजार रुपये ओवरड्राफ्ट की सुविधा का ऐलान किया। यानी महिला मंत्री ने महिलाओं के लिए सिर्फ कर्ज का ऐलान किया महिला कल्याण, महिला सुरक्षा या अन्य से संबंधित किसी योजना का कोई जिक्र नहीं किया।

/ Madhya_Pradesh      Jul 05 ,2019 17:33