डिण्डौरी की आवाज़ बने ’’गोलू बर्मन’’, पारूल बनीं उपविजेता डिंडौरी / Madhya_Pradesh

डिण्डौरी की आवाज़ बने ’’गोलू बर्मन’’, पारूल बनीं उपविजेता

भीमशंकर साहू @lionnews.in- डिण्डौरी स्टार स्टेज के तत्वाधान में गुरूवार को उत्कृष्ट विद्यालय परिसर डिण्डौरी में डिण्डौरी की आवाज गायन प्रतियोगिता सीजन-3 का भव्य आयोजन किया गया। प्रतियोगिता के दौरान डिंडोरी में जन्मे व पले-बढ़े एक राष्ट्रीय चैनल पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम ’’सनसनी’’ एवं ’’बाहुबली’’ के परिकल्पनकर्ता एवं प्रख्यात एंकर श्रीवर्धन त्रिवेदी व वरिष्ठ पत्रकार प्रवीण दुबे बतौर अतिथि की उपस्थिति ने कार्यक्रम को और भी अधिक भव्यता प्रदान की। सरस्वती-पूजन के साथ कार्यक्रम की शुरूआत करते हुये श्रीवर्धन त्रिवेदी ने अपने प्रारम्भिक उद्बोधन में जैसे ही अपनी फेमस पंचलाईन ’’चैन से सोना है तो.....’’ उद्गारित की, तो मानो उपस्थित जनसमूह उनकी वाणी का कायल हो गया, एकबारगी तो उन्हें यकीन ही नहीं हुआ कि जिनका शो वे प्रतिदिन टीव्ही पर देखते हैं, वो आज उनके सामने हैं। श्री त्रिवेदी ने अपने उद्बोधन में खासतौर पर डिण्डौरीवासियों को नर्मदातटवासी होना बताते हुये, नर्मदा संरक्षण के प्रति जागरूक और सजग रहने का आह्वान भी किया और कार्यक्रम के शानदार आयोजन और परिश्रम के लिये डिण्डौरी स्टार स्टेज समिति की मुक्तकण्ठ से प्रशंसा की। अपने उद्बोधन में न्यूज 18 चैनल के सीनियर एडिटर प्रवीण दुबे ने सभी प्रतिभागियों के साहस और जज्बे को सलाम करते हुये, आयोजन का अधिक से अधिक लाभ लेने को कहा और कार्यक्रम के आयोजन को लेकर सभी समिति सदस्यों की प्रशंसा की। पत्रकार दुबे ने यह भी कहा कि उनके समयकाल में ऐसे आयोजन नहीं होते थे, लेकिन आज डिण्डौरी प्रगति की राह पर है और ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन और उनमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने वाले प्रतिभागियों की संख्या दर्शाती है कि डिण्डौरी अब अपनी अलग पहचान बना रहा है। कार्यक्रम प्रारम्भ के पूर्व डिण्डौरी स्टार स्टेज परिवार ने अपने कर्मठ सदस्य स्व0 सुरेश गुप्ता के सम्मान में उन्हें श्रृद्धांजलि देते हुये, दो मिनिट का मौन भी रखा। कार्यक्रम में बतौर ज्यूरी मण्डला के फेमस म्यूजिक डायरेक्टर वरूण उइके, जबलपुर की श्रीमति श्वेता मिश्रा एवं खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय से संगीत विशारद श्रीमति पल्लवी फाटक ने प्रतिभागियों को जी खोलकर अपनी प्रतिभा दिखाने को कहा। प्रतियोगिता के आरम्भ में ही एक-से-एक बढ़कर एक प्रतिभाएँ देखने को मिलीं, जिले वासियों को भी एक बार तो यकीन ही नहीं हुआ कि हमारे जिले में ऐसी प्रतिभाएँ मौजूद हैं। वैभव कृष्ण परस्ते, मोनिका पड़वार, महज 15 वर्षीय अवनी सिंह परिहार, गोल्डी पारस, प्रशंसा मिश्रा, जितेन्द्र लोरिया, विकास बहादुर, लक्ष्मेन्द्र सराठिया, गौरव दाहिया, दीपक मरावी, मृदुवाणी वैश्य और नन्ही जिया जैन, सचिन सेनी, विकास पाराशर ने अपनी गायन कला से न केवल निर्णायकों को बल्कि उपस्थित अतिथियों और दर्शकों को भी मंत्रमुग्ध कर दिया, साथ ही निर्णायकों के सामने भी अपनी कठित चुनौती पेश करते हुये, अपनी-अपनी दावेदारी पेश की। इस दौरान उपस्थित सभी दर्शकों ने चिराग एण्ड ग्रुप के सभी म्यूजीशियन्स की भी जमकर प्रशंसा की और उनके गु्रप ने दर्शकों की खूब तालियाॅ बटोरीं। अंत में निर्णय के पूर्व श्रीवर्धन त्रिवेदी और प्रवीण दुबे ने विजेता और उपविजेता के सम्बंध में बताया कि कोई भी न तो यहाॅ जीतेगा और न ही हारेगा, बल्कि सभी अपने आपको इस मामले में भाग्यशाली समझें कि इतने भव्य मंच पर उन्हें गायन का अवसर प्राप्त हुआ। आखिर में दो प्रतिभागियों के बीच आश्चर्यजनक रूप से अंक बराबर होने के कारण टाई हुआ, जिन्हें अतिरिक्त समय दिया जाकर, उनका परीक्षण किया गया और परिणाम रहा है कि फिल्म महुआ का गीत ’’दोनों ने किया था प्यार’’ शानदार तरीके से गाने वाले गोलू बर्मन डिण्डौरी की आवाज सीजन-3 बने, उपविजेता रहीं प्रतिभाशली पारूल जैन और तीसरे स्थान पर अपनी गायनकला से सभी को प्रभावित करने जितेन्द्र लोरिया रहे। विजेता, उपविजेता और तृतीय स्थान पर रहने वाले इन सभी प्रतिभागियों को श्रीवर्धन त्रिवेदी की ओर से क्रमशः 11 हजार, 5 हजार एवं 3100 की नगद राशि एवं गिफ्ट हैम्पर्स से पुरूस्कृत किया गया, सभी 20 प्रतिभागियों को भी प्रमाण-पत्र, मेमेन्टोज़ भी प्रदान किये गये। सम्पूर्ण कार्यक्रम के दौरान इलेक्ट्राॅनिक एवं प्रिन्ट मीडिया के पत्रकारगण भी उपस्थित रहे। जिन्होंने कार्यक्रम के आयोजन की मुक्तकण्ठ से प्रशंसा की। पूरे कार्यक्रम के दौरान डिण्डौरी जिले के सभी प्रायोजक प्रतिष्ठानों के प्रति आभार व्यक्त करते हुये, आयोजन समिति के अध्यक्ष आशीष जोशी ने अतिथियों, अभिभावकों, म्यूजीशियन्स और उपस्थित बहुसंख्यक दर्शकों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया और बताया कि विगत एक माह की सफलता के रूप में मिले इस प्रसाद के वास्तविक हकदार उनकी पूरी आयोजन समिति है। जोशी ने भविष्य में भी कार्यक्रम के आयोजन को लेकर अपना दृढनिश्चय प्रकट किया। कार्यक्रम में समिति के सचिव अकील अहमद सिद्दीकि एवं सदस्यगण श्रीराम उरैती, कमलेश अवधिया, अखिलेश सोनी, दीपक पाण्ड़ेय, कमलेश सोनी, बालकृष्ण परस्ते सुशान्त जैन, अविनाश टाण्डिया, पवन चौरसिया, ध्रुव पटेल, श्रीमति उमा श्रीवास्तव, मनोज पारस, अरमान प्रधान, नितिन मिश्रा, कृष्णा नन्दा सहित भारी संख्या में डिंडौरीवासी उपस्थित रहे।
डिंडौरी / Madhya_Pradesh      Jun 07 ,2019 12:50