PM मोदी कांग्रेस को उकसने में क्या हुए कामयाव  / Madhya_Pradesh

PM मोदी कांग्रेस को उकसने में क्या हुए कामयाव

@lionnews.in

पीएम नरेन्द मोदी कांग्रेस को उकसाने में कामयाव होते नजर आ रहे है। कांग्रेस के भड़कने से उसके दिग्गिज नेता जो भी बयान देगे जनता मुख्य मुद्दों से भटकेगी। यही फायदा भारतीय जनता पार्टी को मिलेगा। ऐसे में छठे चरण के चुनाव से ठीक पहले दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर-1 बता कर अंतिम चरण तक चुनाव को जीतने का रास्ता साफ कर रहे हैं। BJP मुल मुद्दों से जनता का ध्यान हटाकर हर दिन अलग अलग मुद्दा छेड़ कर जीतने की कोशिश में है। तो वहीं कांग्रेस अब भी विकास, युवा की बैराजगारी, रूपय की मार, कालाधन वापस जैसे मुद्दों को छोड़ने को तैयार नहीं है। बीजेपी इस चुनाव से बाहर होती नजर आ रही है। यह पुरा चुनाव कांग्रेस सिर्फ मोदी के खिलाफ लड़ती नजर आ रही है। ऐसा इसलिये है क्योकि भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस मुक्त भारत का सपना देख रही थी अब बीजेपी मुक्त हो चली है। बीजेपी खुद मोदी के नाम पर वोट मांग रही है। और मोदी किसके नाम पर वोट मांग रहे है। यह हर दिन बदलता जा रहा है। असल में वोट मांगने के लिये मोदी और बीजेपी के पास कोई ठोस आधार नहीं है। ऐसे में जनता को कभी हिन्दु तो कभी अली नहीं बजरंगवली तो कभी पाकिस्तान पर स्र्जीकल स्ट्राइक तो कभी कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी तो पता नहीं क्या क्या।

           इस बीच अगले चरणें के लिये राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर-1 बताने वाले बयान से मोदी अगले बचे हुए चरणों में लाभ उठाने की तैयारी में है। मध्यप्रदेश में राजीब गांधी के समय का भोपाल गैस काण्ड और पंजाब में सिंख आतंकवाद को हवा देने में इसका पूरा फायदा उठाने की तैयारी में है। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मोदी जी देश के पीएम हैं मगर एक शहीद व्यक्ति का अपमान करते हैं। आपके दिल में जितना भी क्रोध हो आप मुझे, मेरे पिता, माता, दादा, दादी के बारे में जो कहना चाहते हो कहो, आप मेरी तरफ जितनी भी नफरत फेंकोगे, मेरे दिन से सिर्फ प्यार वापस आएगा। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को पीएम मोदी द्वारा भ्रष्टाचारी नंबर 1 कहने के मुद्दे पर कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग पहुंचा है। कांग्रेस ने इसे लेकर आयोग से शिकायत दर्ज कराई है।

     कांग्रेस को अभी भी यदि लोकसभा चुनाव 2019 जीतना है तो उसे संयम रखते हुए भाजपा को भाजपा की तर्ज से जबाव देना होगा। 23 मई के बाद मौसम के बदलने की सम्भावना है। मौसम वैज्ञानिकों का सिर्फ यह अनुमान है। देखना होगा कि हर बार की तरह कही यह चेतावनी भी गतल न निकल जाये।

/ Madhya_Pradesh      May 06 ,2019 17:09