साध्वी प्रज्ञा सिंह के खिलाफ इंदौर में FIR , साध्वी की बेल पर भी उठे सवाल Bhopal / Madhya_Pradesh

साध्वी प्रज्ञा सिंह के खिलाफ इंदौर में FIR , साध्वी की बेल पर भी उठे सवाल

@lionnews.in

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी की मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लोकसभा सीट की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर इंदौर के कांग्रेसी नेता देवेंद्र सिंह यादव की शिकासत पर कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज की गई है। 29 सितंबंर 2008 को मालेगांव में हुए बम धमाकों के मामले में प्रज्ञा सिंह ठाकुर आरोपी हैं और नौ साल तक जेल में रहने के बाद उन्हें जमानत मिली है। प्रज्ञा को खराब स्वास्थ कारणों से जमानत मिली है। उनको कुछ निर्देश भी दिये गये है। साध्वी आम चुनाव लड़ रही है। जिसे पूरा देश देख रहा है। ऐसे में जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि जिस स्वास्थ्य के आधार पर प्रज्ञा को जमानत दी गई वो उसका माखौल उड़ा रही हैं। खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर वो जेल से बाहर आईं और अब चुनाव लड़ने के लिए उनका स्वास्थ्य बेहतर है। लिहाजा उनकी बेल खारिज होनी चाहिए।

पढें:-   राजनाथ सिंह पहुंचे मध्यप्रदेशचुनाव प्रचार से ठीक पहले किया ये ... क्या मिलेगा इसका लाभ

          दिग्विजय ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंटटेंशन में BJP नेता

          फिर हो सकती है शिवराज सरकार में हुई वन रक्षकों की भर्ती की जांच

       भाजपा प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह ठाकुर 2008 में पहली बार मध्यप्रदेश में गिरफतार हुई थी। उस समय शिवराज सिंह की सरकार थी। उसके बाद उनको दुसरी बार 2010 में गिरफतार किया गया। उस समय भी भाजपा की सरकार थी। श्राप देने की आदत ने उस दौरान भी प्रज्ञा ने शिवराज सिंह को कुछ ऐसे ही श्राप दिये थे। उसके बाद शिवराज सिंह की सरकार 2018 तक रहीं। प्रज्ञा सिंह ठाकुर को पहली और दुसरी बार गिरफतार किये जाने के समय मध्य प्रदेश पुलिस ने ही केस डायरी तैयार की थी। तमाम जानकारी ओर सबुत शिवराज सिंह सरकार की पुलिस ने इक्टठा किये थें। प्रज्ञा पर देश के कई अन्य शहरों में भी मामले दर्ज है।

Bhopal / Madhya_Pradesh      Apr 21 ,2019 16:33