नलसप्लाई रोज के बजाय तीन और चार दिन के अंतराल से : डैम के पानी से हो रही खेतों में सिंचाई Damoh / Madhya_Pradesh

नलसप्लाई रोज के बजाय तीन और चार दिन के अंतराल से : डैम के पानी से हो रही खेतों में सिंचाई

पथरिया ( दमोह ) - नगर में जल संकट से निपटने के लिए शासन द्वारा 23 करोड़ रुपए की लागत से योजना स्वीकृत की गई थी जिसमें पथरिया नगर के लोगों के लिए भरपूर पानी मिल सके लोगों के लिए पानी के लिए कोई समस्या ना हो इसी योजना के तहत इमलिया सतऊआ ग्राम के पास सुनार नदी पर एनीकट डेम बनाया गया जिससे कि पथरिया के लिए पर्याप्त पानी मिल सके लेकिन प्रशासन की अनदेखी के चलते पीने के लिए पानी के लिए जो डेम बनाया गया था लगातार उसमें मोटरों से खेतों की सिंचाई आसपास के किसानों द्वारा की जा रही है। एक नहीं कई दर्जनों की संख्या में डेम से खेतों की सिंचाई के लिए मोटरे डलीं हुई ंहैं जिससे दिन प्रतिदिन डैम का जलस्तर घटता हुआ नजर आ रहा है लेकिन प्रशासन द्वारा चुप्पी साधे हुए हैं जबकि योजना के अनुसार पथरिया नगर में प्रतिदिन पानी देने का प्रावधान है की प्रतिदिन नल खोले जाएंगे ताकि लोगों के लिए पर्याप्त पानी मिल सके लेकिन तीन और चार दिनों के अंतराल से पथरिया नगर में जल सप्लाई की जा रही है तो वही धीरे धीरे डेम का पानी खाली हो रहा है पीने के पानी से लगातार मोटर से सिंचाई की जा रही है यही हालात रहे तो भीषण गर्मी में पथरिया नगर में पानी की किल्लत बढ़ जाएगी और पथरिया के लोगों के लिए पानी की समस्या से जूझना पड़ेगा सरकार द्वारा तो पानी की समस्या हल करने के लिए पैसा खर्च कर दिया गया लेकिन अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की अनदेखी के कारण पथरिया नगर में जल संकट बढ सकता है पथरिया नगर के सलीम खान विधायक प्रतिनिधि ने बताया कि सरकारी योजनाएं तो बहुत अच्छी जनकल्याणकारी बनाई जाती है ताकि लोगों के लिए इसका पर्याप्त लाभ मिल सके लेकिन प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों की अनदेखी के चलते यह योजनाएं सही तरीके से संचालित नहीं हो पाती जिससे की आम जनता को परेशान होना पड़ता है पथरिया नगर में नल जल योजना के माध्यम से प्रतिदिन पानी देने का प्रावधान है लेकिन 3 दिन बाद पानी दिया जाता है नगर के भूपेंद्र सोनी दिनेश अहिरवार ने बताया कि पथरिया नगर में आगामी समय में जल संकट गहरा सकता है क्योंकि पथरिया नगर के जल संकट से निपटने के लिए जो डेम बनाया गया था उससे पथरिया नगर में पानी कम सप्लाई खेतों में ज्यादा जा रहा है सैकड़ों की संख्या में बासा इमलिया सत्ऊआ शाहपुर सहित दर्जनभर गांवों के लोग मोटर लगाए हुए हैं जिससे कि डेम खाली हो रहा है लेकिन नगर परिषद द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है कुछ समय बाद नगर परिषद द्वारा यह रोना रोया जाएगा कि कम बारिश के कारण डेम नहीं भरा जिससे पथरिया नगर में जल संकट हो रहा है बड़ी मेहनत के साथ पानी ला रहे हैं इस प्रकार का प्रचार किया जाएगा जबकि जो पानी पथरिया नगर के लिए भरा था वह सिचाई में खाली होता जा रहा है जनप्रतिनिधि प्रशासन द्वारा अभी ध्यान नहीं दिया जा रहा। वही जब इस संबंध में कलेक्टर दमोह को जानकारी दी गई तो उन्होंने तत्काल सीएमओ प्रकाश पाठक को मौके का निरीक्षण कर कार्रवाई के दिए और सीएमओ द्वारा स्थल का निरीक्षण किया गया जहां पाया गया कि डैम में सैकड़ों की संख्या में मोटरें डालकर आसपास के गांवों के खेतों में सिचाई कार्य किया जा रहा है सीएमओ का कहना है कि अब सूचना जारी कर मुनादी कराई जाएगी नोटिस जारी किए जाएंगे नगर परिषद् के कर्मचारियों को भेजकर कार्य शुरू कर दिया जाएगा तीन चार दिन लग जाएंगे कार्यवाही में जलसंकट न आ सके इसके लिए प्रयास किये जाएंगे।
Damoh / Madhya_Pradesh      Mar 06 ,2019 16:59