लोग कर रहे हैं इस बारे में बात, लेकिन तस्वीर पर BJP खामोश / delhi

लोग कर रहे हैं इस बारे में बात, लेकिन तस्वीर पर BJP खामोश

@lionnews.in

कुछ तो लोग कहेगें लोगों का काम है कहना’’ जी हॉ यह एक हिन्दी फिल्म का गाना है। लेकिन जो तस्वीर आपके सामने है इसे 24 दिसम्बर 2018 को खीचा गया हैं। इस फोटों को सोशल मीडिया पर जो देख रहा है वह कुछ कहे बिना नहीं रह पा रहा है। इस तस्वीर में एक तरफ एलके आडवाणी हैं। जिनका अपना एक इतिहास है। वह बीजेपी के वरिष्ठ नेता है। तो वहीं दुसरी तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी है। तस्वीरों में दोनों नेताओं की भाव-भंगिमा को लेकर कई तरह से व्याख्या की जा रही है। पीएम मोदी के सामने हाथ जोड़े खड़े एलके आडवाणी की मुद्रा को लेकर सोशल मीडिया पर काफी टिप्पणियां मौजूद हैं। लेकिन, तस्वीरों में जिस बेचारगी के साथ एलके आडवाणी मोदी के सामने खड़े हैं आखिर उसमें कितनी सच्चाई है?

लोग पूछ रहे हैं कि यह आडवाणी की मजबूरी है या उनकी सहज आदत? लेकिन अब तक इस फोटों को लेकर कोई प्रतिक्रिया बीजेपी की तरफ से नहीं आई है। 

कुल मिलाकर आडवाणी को जानने बालों का कहना है कि उनकी पुरानी यादों पर जोर दे तो हाथ जोड़कर खड़े रहने की उनका यह चीर-परिचित अंदाज रहा है। अब जब यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब ट्रेंड की जा रही है तब इस पर तरह तरह के संदेश भी देखने को मिल रहे है। दरअसल यह फोटों बीबीसी ने जारी कर इस पर लोगों से कैप्शन मांगा था। किसी ने इस को अर्ध सत्य कहा तो किसी ने कुछ और ही लिख दिया। मजेदार बात यह है कि इस तस्वीर को लेकर बीजेपी ने कोई प्रतिक्रिया अब तक नहीं दी है। 

/ delhi      Dec 27 ,2018 15:08