कमलनाथ ने किया राज्य में 28 मंत्रियों से जातिगत संतुलन, 15 साल बाद मिला एक मुस्लिम मंत्री भी / Madhya_Pradesh

कमलनाथ ने किया राज्य में 28 मंत्रियों से जातिगत संतुलन, 15 साल बाद मिला एक मुस्लिम मंत्री भी

@lionnews.in

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजनीति में कांग्रेस ने सभी जाति को ध्यान में रखते हुए राज्या में जातिगत संतुलन बनाने की कोशिश की है। तो वहीं भोपाल उत्तर से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे आरिफ अकील को भी कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। अकील दिग्विजय सरकार में अल्पसंख्यक मंत्रालय का कामकाज संभाल चुके हैं। मध्य प्रदेश को अकील के रूप में 15 साल बाद एक मुस्लिम मंत्री भी मिला है।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 28 मंत्रियों के नामों पर अंतिम मुहर लगाई. कमलनाथ मंत्रिमण्डल तैयार कर दिया है। कांग्रेस सरकार में 15 साल बाद मुस्लिम समुदाय के आरिफ अकील को प्रतिनिधित्व दिया है। 15 साल बाद राज्य की सत्ता में लौटी कांग्रेस ने क्षेत्रीय और जातिगत संतुलन पर पूरा ध्यान रखा हैं। मंत्रिमंडल में राज्य के तीनों बड़े नेता कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन वाले विधायकों को भी अच्छी जगह मिली है। 28 मंत्रियों की सूची में शपथ लेनेवाले मंत्रियों में डॉ. गोविंद सिंह, आरिफ अकील, वृजेंद्र सिंह राठौड़, सज्जन सिंह वर्मा, बाला बचन, लखन सिंह यादव, विजयलक्ष्मी साधो, हुकुम सिंह करादा, तुलसी सिलावत, गोविंद राजपूत, ओंकार मरकाम, सुखदेव पानसे, चैधरी जयवर्धन सिंह, हर्ष यादव, कमलेश्वर पटेल और लखन घनगोरिया शामिल रहें। इनके अलावा तरुण भनोट, पी.सी. शर्मा, सचिन यादव, सुरेंद्र सिंह बघेल, जीतू पटवारी, उमंग सिंगार, प्रद्युम्न तोमर, प्रदीप जायसवाल, महेंद्र सिंह सिसोदिया, इमरती देवी, प्रियवत सिंह को भी मंत्री बनाया गया है. खास बात यह है कि कमलनाथ मंत्रिमंडल में राज्य सरकार में बीते 15 साल बाद मुस्लिम समुदाय के आरिफ अकील को प्रतिनिधित्व दिया गया है। लोकसभा चुनाव को देखते हुए राज्य के हर क्षेत्र में जातिगत संतुलित बिठाने की पूरी कोशिश की है। आगामी चुनावों को देखते हुए इसका लाभ कांग्रेस को मिलेगा या नहीं यह कहना अभी ज्लदबाजी होगी।

/ Madhya_Pradesh      Dec 25 ,2018 15:57