अन्नदाता का दिल्ली में महाआंदोलन, विपक्ष किसानों में मसले पर हुआ एक Bhopal / delhi

अन्नदाता का दिल्ली में महाआंदोलन, विपक्ष किसानों में मसले पर हुआ एक

@lionnews.in

पवन यादव, दिल्ली  राजधानी दिल्ली में हुए किसान महाआंदोलन में देश के अलग-अलग हिस्सों से हजारों किसान रामलीला मैदान पहुंचे। कड़कड़ाती ठंड और खुले आसमान के नीचे अन्नदात ने रात गुजारी। आज किसान कर्ज माफी, फसलों के दाम जैसे मुद्दों पर दिल्ली पहुंचें। वहीं किसानों में मसले पर विपक्ष एक हो गया है। कांग्रेसाध्यक्ष राहूल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल सहित तमाम पार्टी के नेताओं ने किसान आंदोलन को अपना समर्थन दिया है। 

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले लगभग 200 किसान संगठनों, राजनीतिक दलों और अन्य समाजिक संगठनों से किसानों की मांग का समर्थन करते हुए आंदोलन में भागीदारी की है.अखिल भारतीय किसान सभा के सचिव अतुल कुमार अंजान सहित संगठन के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी रामलीला मैदान में आंदोलनकारियों के लिए सुविधाओं का लगातार जायजा लेते रहें।

अंजान ने बताया कि नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुरुग्राम की ओर से भी किसानों के समूह पैदल और वाहनों से रामलीला मैदान पहुंचे। किसान मुक्ति यात्रा की अगुवाई सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर और वरिष्ठ पत्रकार पी साईनाथ ने की। उत्तरप्रदेश के सुलतानपुर से गौरव यादव हजारों किसान भाईयों को लेकर मैदान पहुचे। इस बीच, पूर्व सैनिकों के संगठन ने भी किसानों की मांग का समर्थन करते हुए किसान मुक्ति यात्रा में शिरकत की. संगठन के प्रमुख मेजर जनरल सतबीर सिंह ने कहा कि पूर्व सैनिक किसान आंदोलन में दो दिन तक साथ रहेंगे। 

अंजान ने बताया कि यह पहला अवसर है जब किसानों के समर्थन में डॉक्टर, वकील, शिक्षक, रंगकर्मी और छात्र संगठनों सहित समाज के सभी वर्गों ने भी किसान आंदोलन में हिस्सेदारी की है। किसान संगठनों ने यह साफ कर दिया है कि हमारी मांग पूरी नहीं हुई तो आम चुनाव में सरकार को इसका अंजाम भूगतना पड़ सकता है। 

Bhopal / delhi      Nov 30 ,2018 17:22