व्यापम घोटाले का मास्टमाइंड भी चुनाव मैदान में, किस पार्टी ने दिया टिकट. . .  जानियें Bhopal / Madhya_Pradesh

व्यापम घोटाले का मास्टमाइंड भी चुनाव मैदान में, किस पार्टी ने दिया टिकट. . . जानियें

@lionnews.in

भोपाल। जगदीश सागर यह नाम सीधा मध्यप्रदेश के व्यापम घोटाले से जुड़ा है। जगदीश ने अपने शपथ पत्र में आपराधिक मामलों का ब्यौरा दिया है। इसमें पीएमटी घोटाला और मनी लॉड्रिंग केस का जिक्र है।

   जगदीश सागर व्यापम घोटाले का मास्टर माइंड हैं। जगदीश अपनी राजनीतिक पारी शुरू कर रहा है. वो भिंड की गोहद विधानसभा सीट से बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहा है. इस सीट से बीजेपी के लाल सिंह आर्य और कांग्रेस से रणवीर जाटव चुनाव मैदान में हैं। पेशे से डॉक्टर, जगदीश सागर इस घोटाले का मास्टर माइंड था. आरोप है कि उसने पीएमटी में फर्जीवाड़ा कर 100 से ज्यादा विद्यार्थियों को गलत तरीके से मेडिकल कॉलेजों में दाखिला दिलाया था. वर्तन निदेशालय इंदौर और भिंड में डॉ जगदीश सागर की 18 करोड़ की चल-अचल संपत्ति अटैच कर चुका है. सागर दंपति भिंड का रहने वाला है।

इसे भी पढ़ेः-

राहुल गांधी 14 दिन में 100 से ज्यादा तो अमित शाह करेगें 7 दिन में 28 सभा और रोड-शो

भाजपा प्रत्याशी का नीमच में भारी, जनसंपर्क के दौरान झेलना पड़ा अपमान

 

पथरिया में भव्य रत्नत्रय पाठ एवं जिनवाणी पालकी शोभायात्रा संम्पन्न

जांच में खुलासा होने पर इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस ने 2013 में उसे मुंबई से गिरफ्तार किया था। व्यापम घोटाले के इस आरोपी ने अपने नामांकन पत्र के साथ शपथ पत्र में अपनी संपत्ति का जो ब्यौरा दिया है, उसके मुताबिक, सागर के 31 छोटे बड़े प्लॉट हैं. उसकी चल संपत्ति की कीमत 1.82 करोड़ है. पत्नी सुनीता सागर की संपत्ति की मालिक है. इसके सिवाय व्यापम घोटाले के इस आरोपी के पास 3.78 करोड़ की अचल संपत्ति और उसकी पत्नी के पास 1.30 करोड़ की संपत्ति है।

Bhopal / Madhya_Pradesh      Nov 14 ,2018 14:10