शिकारियों को पकड़ा वन विभाग की टीम ने / Madhya_Pradesh

शिकारियों को पकड़ा वन विभाग की टीम ने

 
खजुराहो वन विभाग की टीम नीलगाय के शिकार के मामले में 16 आरोपियों को शिकार एवं हथियार सहित गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।
जानकारी के अनुसार खजुराहो थाना अंतर्गत ग्राम गोरा के एक खेत में वीती 23 अक्टूबर एक नीलगाय खेत के गड्ढे में गिर गई और जिसकी खबर आरोपियों तक पहुंची। आरोपियों ने मौके पर पहुंचकर नीलगाय को हथियारों से घायल करके मार डाला और उसका मांस बांटकर पकाने के लिए अपने अपने घर ले गए। इसी दौरान वन विभाग को जानकारी लगी तो रेंजर जेपी मिश्रा ने आनन-फानन में वन अमले के साथ ग्राम गोरा मौके पर पहुंचकर आरोपियों को नीलगाय के मांस सहित पकड़ लिया और आरोपियों पर विभागीय कार्यवाही की। घटना के बारे में जानकारी होने पर डीएफओ अनुपम सहाय खजुराहो पहुंचे और शिकार का बारे में विस्तृत जानकारी के बाद कार्यवाही के निर्देश दिए। उक्त शिकार में कंछेदी अहिरवार उम्र 56 वर्ष,श्यामलाल बसोर उम्र 65 वर्ष,गयादीन बसोर उम्र 70 वर्ष,सोनू अहिरवार उम्र 25 वर्ष,ननुआ अहिरवार उम्र 58 वर्ष,मुन्ना अहिरवार उम्र 40वर्ष,बब्बू अहिरवार उम्र 48वर्ष,कैलाश अहिरवार उम्र 28वर्ष,मोहनलाल अहिरवार उम्र 70 वर्ष,बैरागी अहिरवार उम्र 56 वर्ष,गनेशी अहिरवार उम्र 44 वर्ष,शारदा अहिरवार उम्र 38वर्ष,प्रकाश अहिरवार उम्र 37 वर्ष,लल्लन अहिरवार उम्र 44 वर्ष,मनका अहिरवार उम्र 54 वर्ष सभी निवासी ग्राम गोरा थाना खजुराहो तथा नथुआ अहिरवार उम्र 50 वर्ष ग्राम उदयपुरा थाना खजराहो पर वन अपराध क्रमांक 651/2 दिनांक 24-01-2018 वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9, 39, 2(16 ्र,क्च)तथा धारा 51के तहत आरोप तय किये गए। जिन्हें सिविल न्यायालय राजनगर में न्यायाधीश के सामने पेश किया गया।
 
24 घंटे तक चले रेसक्यू में टीम ने एक श्रमिक का शव बरामद किया
खजुराहो 25 अक्टूबर नि.प्र.। थाना खजुराहो के अंतर्गत ग्राम खर्रोही में एक कुंये की मरम्मत के दौरान कुंआ धसक जाने से उसमें काम कर रहे मजदूर दब गये जिन्हें रेस्क्यू टीम दूसरे दिन भी निकालने में सफल नहीं हो सकी। मलबे में दबे मजदूरों में एक मजदूर बृजेंद्र पटेल का शव शाम 5 बजे तक बरामद हो गया एवं दूसरे की तलाश जारी रही।  वहीं घटना के दूसरे दिन भोपाल से एसडीईआरएफ की टीम को घटनास्थल पर बुलाया गया। 
ज्ञातव्य है कि थाना खजुराहो के खर्रोही में एक निर्माणाधीन कुंआ से पानी रिसाव होने के कारण उन दरारों को भरने के लिए मजदूर ब्रजेन्द्र पटेल पुत्र हरिचरन पटेल  उम्र 22 साल और राम प्रसाद कुशवाहा उम्र 50 वर्ष बुधवार की दोपहर तीन बजे कुंआ में उतरकर दरारे भरने का काम कर रहे थे। लेकिन इसी दौरान अचानक कुंआ उपर से भरभराकर धसक गया। जिस कारण कुंये में नीचे काम कर रहे दोनों मजदूर हरिचरन पटेल और राम प्रसाद कुशवाहा मलबे के नीचे दब गये। घटना की जानकारी लगते ही एसडीएम राजनगर, खजुराहो टीआई, एसडीओपी खजुराहो और होमगार्ड के कमांडेट कर्ण सिंह समेत पुलिसबल मौके पर पहुंचा। जेसीबी और एलएनटी लगाकर मलबे को हटाने का प्रयास किया गया। लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। कुंए में पानी का रिसाव होने के कारण मलबा लगातार बढ़ता गया। प्रशासन की टीम लगातार दोनों मजदूरों को निकालने के लिए प्रयासरत है दूसरे दिन शाम 5 बजे ब्रजेंद्र पटेल का शव बरामद हो गया था। शाम चार बजे भोपाल की टीम मौके पर पहुंची। प्रशासनिक अधिकारियों में एसडीएम, एसडीओपी, खजुराहो टीआई और पुलिसबल घटनास्थल पर मौजूद रहा।
/ Madhya_Pradesh      Oct 25 ,2018 16:39