भारत और रूस के बीच 8 करार, मोदी-पुतिन के साझा बयान की बातें / Madhya_Pradesh

भारत और रूस के बीच 8 करार, मोदी-पुतिन के साझा बयान की बातें

 

@lionnews.in

भारत और रूस के द्विपक्षीय संबंधों में नया अध्याय जुड़ा। दोनों देशों ने शुक्रवार को S-400  डिफेंस सिस्टम की डील पर साइन किए। इसके डील अलावा कुल मिलाकर 8 क्षेत्रों में समझौते किए गए हैं। पुतिन-मोदी ने ऐलान किया कि रूस भारत के मिशन गगनयान में मदद करेगा और आतंकवाद पर भी कड़ा रुख अख्तियार करेगा। दोनों नेताओं की साझा प्रेस वार्ता में क्या बड़े ऐलान हुए।

इन क्षेत्रों में हुए समझौते -

> अंतरिक्ष क्षेत्र में समझौता

> रेलवे क्षेत्र में अहम समझौता

> परमाणु क्षेत्र में दोनों देश साथ मिलकर काम करेंगे

> छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए दोनों देश आगे आएंगे

> खाद के क्षेत्र में समझौता

> रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने साझा प्रेस वार्ता में कहा कि आज दोनों देशों के बीच आपसी और वैश्विक हितों को ध्यान में रखते हुए बातचीत हुई. उन्होंने कहा कि दोनों ही देश सुरक्षा-रक्षा-व्यापार के क्षेत्र में मिलकर काम करेंगे.

> पुतिन ने ऐलान किया कि दोनों देशों ने लक्ष्य रखा है कि 2025 तक दोनों देशों के बीच में 30 बिलियन डॉलर तक व्यापारिक संबंध होंगे.

> राष्ट्रपति पुतिन ने ब्लाडिवोस्टक फोरम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को न्योता दिया है.

> उन्होंने कहा कि गैस उत्पादन में भारत को उचित कीमत पर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रूस प्रतिबद्ध है. इसके अलावा इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में भारत में रूस की कंपनियां काम करने को तैयार हैं.

> पुतिन ने ऐलान किया कि आतंकवाद के खिलाफ भारत की चिंताओं से रूस सहमत है. आतंकवाद विरोधी अभ्यास में दोनों देश एक दूसरे का सहयोग करेंगे. भारत के छात्रों के लिए रूस स्कॉलरशिप देगा जबकि रूसी सैलानियों की संख्या में बढ़ोतरी दोनों देशों के रिश्तों को मजबूत करेगी.

 

/ Madhya_Pradesh      Oct 05 ,2018 16:13