कांग्रेस की चिंता बढ़ी, गिर सकती है बड़े नेताओं पर गाज Bhopal / delhi

कांग्रेस की चिंता बढ़ी, गिर सकती है बड़े नेताओं पर गाज

@lionnews.in

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस एसी कमरो में बैठ कर मैदान की रणनीति तैयार करने में लगी है। बैठको का दौर जारी है। ऐसे में पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने चुनाव को लेकर पार्टी लाइन के बाहर जाने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने का मन बना लिया है। इसमें नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह से लेकर चुनाव को लेकर गठित समितियों से निष्क्रिय नेताओं के नाम तलब किए हैं। 

इसे भी पढ़े : - 

MP : घर में घुसकर उठा ले गया बच्ची, 4 साल की मासूम से रेप

भय्यूजी महाराज सुसाइड केस में पुलिस कर सकता है बड़ा खुलासा, जांच पूरी

किसान ने की जहर पीकर खुदकुशी, मामला विधानसभा अध्यक्ष के क्षेत्र का

 

PM का आधार कार्ड पर इन्होंने किया था घोर विरोध, उठाये थें कई सवाल

दरअसल, नेता प्रतिपक्ष की अगुवाई में बीते दिनों कांग्रेस विधायकों ने विधानसभा में डमी सदन लगाया. इसमें पार्टी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के साथ विधायक लगातार तीन दिन तक विधानसभा की सीढ़ियों पर दो से तीन घंटे बैठे रहे और डमी सदन के समापन पर राष्ट्रगान के साथ ही पार्टी निर्देशों का पालन किया. वहीं दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया की बुलाई बैठक में सदस्य पूरे समय अनुशासन में रहे, लेकिन इन सबके बीच एक बड़ी खबर निकल कर आई. डमी सदन के संचालन के दौरान पार्टी के निर्देशों के बाद भी विधायक बिना सूचना के गैरहाजिर रहे, दो से तीन ऐसे विधायक रहे जो सिर्फ चेहरा दिखाकर गायब रहे. और इसी तरह से सिंधिया की बैठक में लगातार तीन बार पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव नहीं पहुंचे तो विवेक तंखा दो बार नहीं आए. पार्टी के निर्देशों पर अब बैठक में सदस्यों की बकायदा अटेंडेंस लगाई जा रही है, और अब पार्टी ऐसे नेताओं के खिलाफ अनुशासन का डंडा चलाने की तैयारी में है, जो पार्टी लाइन के बाहर जाकर पार्टी की बैठकों और कार्यक्रमों में शामिल नहीं हो रहे हैं. यह भी बताया जा रहा है कि कई बड़े नेताओं पर भी गाज गिर सकती है.

Bhopal / delhi      Jul 03 ,2018 03:19