खबर का असर - सिंगोड़ी अस्पताल में शुक्रवार रात अचानक बैठक, हुआ बड़ा बदलाव, 3 दिन पहले ली जोइनिंग, एक्सरे मशीन व पीएम के लिए डाक्टर पर पत्राचार होगा शुरू / Madhya_Pradesh

खबर का असर - सिंगोड़ी अस्पताल में शुक्रवार रात अचानक बैठक, हुआ बड़ा बदलाव, 3 दिन पहले ली जोइनिंग, एक्सरे मशीन व पीएम के लिए डाक्टर पर पत्राचार होगा शुरू

@LIONNEWS.IN

तौफीक मिस्कीनी संवाददाताए छिदवाडा। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिलें के ग्राम पंचायत सिंगोड़ी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में अव्यवस्थाओं का आलम को  लेकर लॉयन न्यूज ने  हाल बेहालसिंगोड़ी स्वास्थ्य केंद्र पर 40 से ज्यादा गांव के लोग निर्भयनियमित डॉक्टर तक नहींमरीजों को हो रही परेशानी इस शीर्षक पर प्रमुखता से खबर को उठाया था। समाचार जैसे ही वायरल हुआ जिलें से लेकर राजधानी भोपाल में समस्याओं की गुज सतपुड़ा भवन तक पहुची। शुक्रवार को शाम होते तक सिंगोडी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मे अव्यवस्थाओ व एक्सरे मशीन एवं पीएम के लिए डॉक्टर नहीं होने जैेसी समस्याओं पर अचानक शाम 7 बजे स्टेट ओ आई सी गोलाईत मैडम व अमरवाड़ा बीएमओ अर्चना कैथवास के साथ अन्य अधिकारी कर्मचारी गण सिंगोडी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने पहुंचे।

        हरकत में आया वरिष्ठ अधिकारियों ने स्वास्थ्य केंद्र के स्टाफ की बैठक ली। जमकर फटकार भी लगाई। एवं विभिन्न प्रकार की कमियां और अव्यवस्थाओं को टटोला साथ ही अस्पताल की व्यवस्थाओं को सुचारु करने के निर्देश दिए। कहा कि कर्मचारियों के द्वारा किसी भी प्रकार की लापरवाही करने पर कार्रवाई की जाएगी।  साथ ही पत्रकारों को बताया कि सिंगोडी में बना चीलघर को लेकर पोस्टमार्टम हेतु डॉक्टर की कमी है जिसको देखते हुए विभाग को पत्र लिखकर पीएम करने वाले डॉक्टर की मांग की जाएगी।एवं यथासंभव जो प्रयास हो सकेगा सारी व्यवस्थाओं को एकदम ठीक कर लिया जाएगा।वही अस्पताल में पदस्थ समस्त कर्मचारियों को समय पर अस्पताल आने और समय पर जाने सहित मरीजों को सरकार  द्वारा स्वास्थ्य सुविधाएं दी जा रही है जिसका लाभ मरीजों को मिल सके व डॉक्टरों के द्वारा दी जाने वाली समस्त सुविधाओं को प्रदान करने की बात कही गई।इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के अनेक अधिकारी व स्वास्थ्य विभाग का अमला उपस्थित रहे।सिंगोडी में पदस्थ डॉक्टर प्रदीप दुबे से बात की गई तो उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा 3 माह की लिए मुझे ट्रेनिंग में जबलपुर पहुंचा दिया गया था।जिसके कारण अस्पताल में डॉक्टर की स्थिति समय पर नहीं मिल पा रही थी।और ग्रामीणों के द्वारा लगातार डॉक्टर नहीं रहने से लोगों को परेशानी शिकायत मिल रही थी।

 

      जैसे ही मेरी ट्रेनिंग समाप्त हुई वैसे ही मैंने सिंगोड़ी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर जोइनिंग ले ली है अब सिंगोड़ी हॉस्पिटल में मरीजों का अच्छा से अच्छा इलाज किया जाएगा।बैठक में अमरवाडा बीएमओ अर्चना कैथवास ने साफ हिदायत दी कि कोई भी डॉक्टरों व नर्स स्टाफ की लापरवाही नही चलेगी।और अगर मरीजों के  साथ लापरवाही की शिकायतें मिलती है तो उनके विरुद्ध  कार्रवाई करने की बात कहीं।इस कारण मीडिया के माध्यम से इस समस्या को उठाया गया और खबर का असर पढ़ते ही स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का जायजा लेने पहुचे ।

/ Madhya_Pradesh      May 06 ,2018 09:08