सुनियोजित थी 2 अप्रेल में हिंसाः MP इंटेलीजेंस bhopal / Madhya_Pradesh

सुनियोजित थी 2 अप्रेल में हिंसाः MP इंटेलीजेंस

@lionnews.in

भोपाल। अनुसूचित जाति-जनजाति अधिनियम के बदलाव के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर मध्यप्रदेश में पिछलें दिनों हुइ्र 2 अप्रेल की हिंसा को मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय की इंटेलीजेंस शाखा ने सुनियोजित बताया है। इंटेलीजेंस की माने तो इसके लिए लोगों को ट्रेनिंग और रूप्ये तक दियें गयें थें। 

मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय की इंटेलीजेंस शाखा ने इनपुट एकत्रित किया है। जो लोग गिरफ्तार हुए उनसे और अन्य माध्यमों से इंटेलीजेंस को इससे जुड़ी जानकारी मिली है। जानकारी के अनुसार 2 अप्रेल से पूर्व इसकी ट्रेनिंग में यह बताया गया था कि किस व्यक्ति को किस स्थान पर रहना है। कुछ सरकारी अधिकारी और कर्मचारी भी हिंसा में शामिल थे, जिनकी रिपोर्ट इंटेलीजेंस ने जुटा ली। पुलिस की एक रिपोर्ट में यह सामने आया है कि ग्वालियर और चंबल संभागों में हिंसा के लिए करीब तीन दर्जन से ज्यादा संगठनों ने गड़बड़ी फैलाने की साजिश रची। इनके द्वारा अपने विश्वस्त लोगों को लाठी-डंडे बांटे गए। उन्हें ट्रेनिंग दी गई। ट्रेनिंग में इन विश्वस्त लोगों के वाट्सएप ग्रुप बनाकर उन्हें सूचनाओं का आदान प्रदान किया गया। चिन्हित स्थान पर लोग तैनात सूत्र बताते हैं कि इंटेलीजेंस शाखा ने संगठनों को चिन्हित कर लिया है। इनमें से कुछ संगठनों के पदाधिकारियों की धरपकड़ के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

bhopal / Madhya_Pradesh      Apr 07 ,2018 14:01