प्रांतीय महिला स्व सहायता समूह महासंघ की जिला स्तरीय बैठक संपन्न / Madhya_Pradesh

प्रांतीय महिला स्व सहायता समूह महासंघ की जिला स्तरीय बैठक संपन्न

@lionnews.in

लॉयन न्यूज ब्यूरो, भोपाल। विदिशा प्रांतीय महिला स्व सहायता समूह महासंघ ने विदिशा में राजपूत धर्मशाला में बैठक का आयोजित किया। इसमें कामकाजी दिक्कतों के अलावा मध्यान्ह भोजन से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा की गई। बैठक में महिलाओं ने बताया कि कई तहसीलों में महिला स्व सहायता समूह स्वतंत्र नहीं है। जहां पर शिक्षकों की अनुमति के बगैर अपनी राशि का आहरण नहीं कर सकती वही खाद्यान्न बहुत कम हो रहा है। 

जिस कारण मध्यान्ह भोजन सुचारु रुप से नहीं चल पा रहा है वही राशि मात्र 40% के मान से दी जा रही है जो कि बहुत कम है महिला बाल विकास द्वारा सांझा चूल्हा ईंधन की राशि उपलब्ध नहीं कराई जा रही है जो कि जो कि अन्य जिलों में इस इस राशि का भुगतान किया जा रहा हैै कार्यक्रम के दौरान प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती सरिता और प्रकाश बघेल एवं प्रदेश कोषाध्यक्ष मंजू संदीप गिरी रायसेन जिला अध्यक्ष श्रीमती मीरा बाई मुन्ना लाल यादव प्रदेश प्रवक्ता नेहा के दुबे  जिला अध्यक्ष श्रीमती वंदना अशोक रावल जिला प्रभारी नीता देवी महाराज सिंह सूर्यवंशी आदि लोगों के विशेष आतिथ्य में बैठक का आयोजन किया गया इस अवसर पर नियुक्ति पत्र भी वितरित किए गए जिसमें मंजू महिपाल सिंह जिला सचिव सुनीता शंभू सिंह राठौर ब्लॉक अध्यक्ष सिरोंज सीमा उमराव सिंह जिला उपाध्यक्ष के नियुक्ति पत्र वितरित किए गए बैठक के दौरान प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती सरिता ओमप्रकाश बघेल द्वारा बताया गया कि महिलाओं के लिए मात्र ₹1000 में रसोई का काम कराना निंदनीय है इसकी राशि बढ़ाकर₹6000 किया जाना चाहिए वही जिला अध्यक्ष  बंदना अशोक रावल ने बताया कि रसोइयों के लिए सुरक्षा हेतु₹600000 का रिस्क कवर बीमा प्रशासन को कराना चाहिए और मध्यान भोजन की राशि को प्रत्येक छात्र ₹20 के मान से दिया जाना उचित है जिला प्रभारी अनीता देवी महाराज सिंह सूर्यवंशी द्वारा बताया गया कि प्रशासन द्वारा 40% के मान से खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है जिस कारण मध्यान्ह भोजन बच्चों को भोजन कराने में उच्च गुणवत्ता वाला भोजन नहीं मिल पा रहा इसके लिए शासन 80% के मानसिक खाद्यान्न उपलब्ध कराएं वही कई बैंकों द्वारा शिक्षक की अनुशंसा के बगैर राशि आहरण नहीं की जा रही है जो कि गलत है स्व सहायता समूहों को राशि आहरण करने के लिए स्वतंत्र किया जाए जिससे कि मध्यान भोजन की व्यवस्था सुचारु रुप से चल सके वही विदिशा में सांझा चूल्हा से जुड़े रसोइयों का मानदेय लंबे अरसे से प्राप्त नहीं हो रहा है जिससे कि स्व सहायता समूहों में तनाव की स्थिति बनी हुई है विभाग द्वारा तत्काल रसोइयों का मानदेय भुगतान किए जाने की बात भी कही गई

स्व सहायता समूह जहां 100 बच्चों को भोजन कराते हैं उस जगह पर सोलह 17 किलो गेहूं उपलब्ध हो रहे हैं महिला बाल विकास से सांझा चूल्हा स्व सहायता समूह वालों को रसोईया एवं ईंधन की राशि  नहीं मिलती विदिशा जिले एवं सागर जिले में 1 साल से बहुत ही परेशानी से जूझ रहे हैं स्व सहायता  समूह ना के बराबर खाद्यान्न इसी तरह राशि दी जा रही 17  मई को भोपाल में जंगी प्रदर्शन करेंगे महिला स्व सहायता समूह संघ प्रदेश स्तरीय आंदोलन होगा

/ Madhya_Pradesh      Apr 04 ,2018 14:51