मुख्यमंत्री के क्षेत्र में 68 नल-जल योजनाएं और 423 हैंडपंप बंद videsh / Madhya_Pradesh

मुख्यमंत्री के क्षेत्र में 68 नल-जल योजनाएं और 423 हैंडपंप बंद

@lionnews.in

लॉयन न्यूज ब्यूरा, विदिशा। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के क्षेत्र में पानी का जल स्तर नीचे जाने की चिंता पीएचई विभाग को सता रही है। जमीनी जल स्तर तेजी से नीचे गया है। आलम यह है कि पिछले एक महीने में जल स्तर में एक मीटर तक की जल स्तर गिरा है। पिछले माह मार्च महीने  के शुरुआती दिनों में जल स्तर 23 मीटर था जो अब एक महीने बाद अप्रैल के शुरुआती दिनों में जल स्तर घटकर 24 मीटर तक नीचे चला गया है। इससे जिले की 295 में से 68 नल-जल योजनाएं और 423 से अधिक हैंडपंप बंद हो चुके हैं। 

Read more... महिलाओं ने निकाली मुख्यमंत्री सहित प्रशासन की अर्थी, गुलाबी गैंग का हल्ला बोल

Read more... मध्यप्रदेश शासकीय गैंगमैन श्रमिक संघ करेगा 9 अप्रेल को धरना प्रदर्शन

Read More... बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के मिल रहे फर्जी फॉर्म, जनप्रतिनिधी हुए परेशान

Read More... रघुवंशी समाज आज निकालेगा कैंडल मार्च, कांग्रेस की न्याय यात्रा कल से

अब तक नगरीय क्षेत्र में भी 670 में से 35 हैंडपंप और 115 से अधिक निजी ट्यूबवेल बंद हो चुके हैं। शहर में पेयजल सप्लाई के लिए बेतवा के कालिदास बांध में पानी का रिजर्व स्टाक खत्म होने से नगरपालिका को हलाली डेम से 20 एमसीएफटी पानी खरीदना पड़ा है। बेतवा के रंगई घाट तक बना सिंचाई विभाग का डेम पूरी तरह से सूख चुका है। बंद पड़ी नल-जल योजनाओं में से 38 योजनाओं को चालू करवाने का दावा पीएचई विभाग द्वारा किया जा रहा है। 

साल 2017 में विदिशा जिले में महज 80 सेमी बारिश हुई थी जोकि सामान्य से 27.5 सेमी कम है। मई और जून महीने में जमीनी जल स्तर 30 मीटर तक नीचे जाने का अनुमान लगाया जा रहा है। जल संकट से निपटने के लिए पीएचई ने फिलहाल 150 गांव चिन्हित किए हैं और बंद पड़ी योजनाओं को आगामी 15 अप्रैल तक चालू करवाने का दावा किया जा रहा है।

videsh / Madhya_Pradesh      Apr 04 ,2018 04:44