लाखों किसानों ने आत्‍महत्‍या की, एक भी उद्योगपति ने नहीं, शुरू करेंगे 23 मार्च से आंदोलन Bhopal / Madhya_Pradesh

लाखों किसानों ने आत्‍महत्‍या की, एक भी उद्योगपति ने नहीं, शुरू करेंगे 23 मार्च से आंदोलन

@lionnews.in
अमित गौतम, ब्यूरो,
सीधी/सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिले में पहुंचे सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने एक बार फिर बीजेपी सरकार को आड़े हाथ लिया है। उन्होंने किसानों की सभा को संबोधित करते हुए किसानों के आत्महत्या करने पर चिंता जाहिर की। अपने संबोधन में अन्ना ने कहा कि बीजेपी सरकार किसानों की हिमायती नहीं हैं। उन्होंने मंच से 23 मार्च को दिल्ली के राम लीला मैदान में आंदोलन करने की बात कही। उन्होंने कहा कि अब तक देश में करीब 12 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं, लेकिन इनमें एक भी उद्योगपति शामिल नहीं है।

Read More... छात्रावास की जॉच के मिले निर्देश, खानापूर्ति कर गये अधिकारी
Read More... जनपद कप टूर्नामेंट 2018 में हिनौता ( सरखडी ) और नरसिंहगढ़ पहुंचे सेमीफाइनल में
            अन्ना हजारे ने किसानों की सभा में किसानों के लिए आंदोलन शुरू करने की बात कही। उन्होंने कहा कि वह 23 मार्च से दिल्ली के राम लीला मैदान में आंदोलन की शुरुआत करेंगे। अन्ना ने कहा कि ‘आंदोलन करूंगा या मरूंगा।’ अन्ना ने कहा कि पूरे देश में जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है और आंदोलन से जुड़ने के लिए लोगों से अपील की जा रही है। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मैं बड़े-बड़े गुंडे से अकेला लड़ रहा हूं, क्योंकि मेरे जीवन में एक भी दाग नहीं है। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि ‘मैंने शादी नहीं की लेकिन मेरा परिवार छोटा नहीं है।’

Read More... ATM काट कर साढ़े छह लाख की चोरी, 6 गिरफ्तारRead More... CEO अमिताभ सिरवाय्या रिश्वत लेते गिरफ्तार, लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्रवाई
             बता दें कि इससे पहले भी अन्ना हजारे बीजेपी सरकार के कामकाज पर सवाल उठाते रहे हैं। मंगलवा को उन्होंने मध्यप्रदेश के जबलपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा था कि ‘देश में सरकार नहीं रह गई है। सत्ता से पैसा और पैसा से सत्ता कमाने में सभी राजनीतिक पार्टियां जुटी हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने तीन साल पहले देश की जनता को बड़े-बड़े सपने दिखाए थे। 30 दिन में काला धन भारत लाने की बात कही थी, 15-15 लाख रुपये हर शख्स के खाते में आने की बात कही थी, लेकिन आज तक 15 लाख तो क्या, 15 रुपये भी लोगों के खाते में नहीं पहुंचे।’

Bhopal / Madhya_Pradesh      Feb 07 ,2018 16:23