बच्चियों को मिला स्वरक्षा का प्रशिक्षण, दांव-पेंच का प्रदर्शन देख चोक गए सब / Madhya_Pradesh

बच्चियों को मिला स्वरक्षा का प्रशिक्षण, दांव-पेंच का प्रदर्शन देख चोक गए सब

@lionnews.in
भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस विभाग ने महिलाओं में जागरूकता एवं आत्मरक्षा के लिए महाविद्यालय की छात्राओं को 15 दिन में जूडो का प्रशिक्षण मिले इसकी पहल की है। इसके लिए पुलिस विभाग ने बकायदा राष्ट्रीय पदकधारी प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण मिले इसकी तैयारी की है। इसमें सबसे पहले भोपाल के 19 महाविद्यालयों एवं स्कूलों की बच्चियों को स्वरक्षा का प्रशिक्षित दिया जायेगा।
          सत्य साईं महाविद्यालय की प्रशिक्षण प्राप्त बच्चियों के बीच अतिरिक्‍त पुलिस म‍हानिदेशक अरूणा मोहन राव पहुँची। उन्होंने बच्चियों से मित्रवत संवाद किया। श्रीमती राव ने कहा कि आप सभी युवा देश की 50 प्रतिशत आबादी में शामिल हैं। युवा आबादी सशक्‍त एवं जागरूक बनकर देश को अग्रणी बना सकते हैं। प्रत्‍येक बच्‍ची यदि स्‍वरक्षा के लिए सक्षम एवं आत्‍मनि‍र्भर होगी तो बच्चियों के प्रति होने वाले अपराधों में अपने आप कमी आयेगी। उन्‍होंने बच्चियों को महिला हेल्‍पलाईन-1090, डायल-100 के संबंध में जानकारी दी।  उन्‍होंने कहा कि इस प्रकार के प्रशिक्षण से बच्चियों का आत्‍मविश्‍वास बढ़ता है। उन्‍होंने बच्चियों से कहा कि आप लोग जिस अवस्‍था में हो यह आपके जीवन का स्‍वर्णिम काल है इसके एक-एक पल का स्‍व विकास में सदुपयोग करें, इसी पर आपका भविष्‍य निर्भर है। श्रीमती राव ने बच्चियों को सायबर क्राइम के बारे मे बताते हुए सोशल मीडिया का सर्तक रहते हुए सीमित प्रयोग करने की सलाह दी। साथ ही केरियर के संबंध मे चर्चा करते हुए कहा कि लक्ष्‍य निर्धारित करें तथा प्रतिस्‍पर्धा को ध्‍यान में रखते हुए स्‍वयं को बेहतर बनायें। आज आपके समय और उर्जा का जिस दिशा में उपयोग होगा वैसा ही आपका आने वाला जीवन होगा।  

      बच्चियों ने 15 दिवसीय जूडो प्रशिक्षण कार्यक्रम में स्‍वरक्षा में सीखे गए सभी दांव-पेंच का प्रदर्शन भी किया। बच्चियों में इस प्रशिक्षण के बाद अलग ही आत्‍मविश्‍वास था कि वे अपनी रक्षा खुद कर सकती हैं। आरक्षक क्रमांक 2237 मुश्‍ताक अहमद, प्रधान आरक्षक क्रं. 1220  मुश्‍ताक खान जिला पुलिस बल, भोपाल द्वारा महाविद्यालय की 175 छात्राओं को 22 जनवरी से 5 फरवरी 2018 तक प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के लिये पुलिस विभाग द्वारा जूडो मेट भी उपलब्‍ध कराये गये थे।  

/ Madhya_Pradesh      Feb 05 ,2018 15:30