यहा छात्राएं बनाती है भोज, छात्रावास अधिक्षिका रात मे रहती नदारद / Madhya_Pradesh

यहा छात्राएं बनाती है भोज, छात्रावास अधिक्षिका रात मे रहती नदारद

@lionnews.in


अमित कुमार गौतम, ब्यूरो

सीधी। मध्यप्रदेश के सीधी जिले में छा़त्राओं के साथ शोषण करने का मामला सामने आया है। यहा उनके शहर मे संचालित सामान्य कन्या छात्रावास पटेल पुल मे रहने वाली कन्याओ ने आरोप लगाया है कि उनसे दिन में एक वार भोजन बनवाया जाता है। साथ ही वह छात्रावास में असुरक्षित भी है। छात्राओं का कहना ह कि अधिक्षिका का कमरा छात्रावास के पास है जिसके चलते वह रात में अपने घर चली जाती है और वह रात्रि समय छात्रावास अधिक्षिका छात्रावास मे नही रहती है।


                  छात्रावास  का मौका मुआयना करने पहुची लॉयन न्यूज की टीम द्वारा यह सब सच सामने आया है। छात्रावास कि कन्या डरी और सहमी है। बच्चियो से भोजन बनाया जा रहा था।  इनमें से एक कन्याओ से जब हमारी टीम ने बात की तो पता चला कि रात्रि क भोजन कन्याओ द्वारा स्वंय बनाया जाता है। छात्रावास मे रह रही कन्याओ के अधिकार का लगातार शोषण होना व उन्हे छात्रावास मे भोजन बनाना ,वर्तन साफ करना अधिक्षिका कि धौंस है तो कही प्रशासन भी मेहरबान है जो कि छात्रावास अधिक्षिको पर कार्यवाही करना उपयुक्त नही समझ रहा है!

छात्रावास मे रहने वाली कन्याओ को भोजन भी मेनू के आधार पर नही मिल रहा है और खाना बनाने के साथ बर्तन धुलवाया जाता है फिर आवासीय छात्रावास का क्या मतलब जब सुविधा कि दरकार बनी रहे और शोषण पर शोषण अधिकारो का होता रहे जिसे प्रशासन मौन बैठा देख रहा है। वही जिले के कलेक्टर दिलीप कुमार कहते है कि कार्यवाहीे करेगे। वहीं आदिवासी, छात्रावास के वरिष्ठ अधिकारी इस बात को मानने को तैयारी ही नहीं है। और मामले को छुपाने की भरपूर कोशिश करते नजर आये।

 यदि ऐसा है तो गलत है जिसमे कार्यवाही होनी चाहिये और होगी।...दिलीप कुमार (कलेक्टर सीधी)-

ऐसा कुछ नही है जैसा बताया ज रहा है, मै और कलेक्टर द्वारा पहले निरिछण किया ज चुका है जो कभी ऐसा देखने को नही मिला, देखते यदि है ऐसा जॉच  कर कार्यवाही होगी।...के के पाण्डेय (आदिवासी,छात्रावास आयुक्त सीधी)
ब्यूरो सम्पर्क-8602217260

/ Madhya_Pradesh      Feb 02 ,2018 13:55