खेतों में आ रहे आसमान से बड़े-बड़े पत्थर, किसान हो रहे बर्बाद / Madhya_Pradesh

खेतों में आ रहे आसमान से बड़े-बड़े पत्थर, किसान हो रहे बर्बाद

@lionnews.in

       सुरेश नामदेव, पथरिया। मध्यप्रदेश के दमोह जिलें में पथरिया तहसील के ग्राम सातपारा के ग्रामीण इन दिनों पत्थरों को हो रही अचानक बारिश से परेशान हो गये। यह बारिश बोल्डरों की थी। जिसे भगवान नहीं इंसान की गलत नियत के चलते इंसान भूगत रहा हैं। मामला माईसेम सीमेंट फैक्ट्री का कारनामों का है। जिसें प्रशासन और सरकार का संरक्षण प्राप्त है। विगत कई वर्षों से किसान इस गंभीर समस्या से परेशान हैं। जिसके चलते सीमेंट फैक्ट्री अपने मकसद में सफल होना चाहती है। फैक्ट्री ने पहले ही ग्राम सतपारा की काफी जमीने हथिया ली है और अब जो किसान जमीन देना नहीं चाहते उन्हें भी किसी ना किसी प्रकार से प्रताड़ित किया जाता है ताकि वह परेशान होकर सीमेंट फैक्ट्री को अपनी जमीन कम दामों में बेच दे। इसकी शिकायत स्थानीय प्रशासन से लेकर जिला कलेक्टर उच्च अधिकारियों को ग्रामीण कर चुके है। लेकिन फैक्ट्री के रसूकदारों के आग गरीब ग्रामीण का कोई माईबाप नही है।
शनिवार की शाम 6 बजे माईसेम सीमेंट फैक्ट्री पक वो कर दिया जो किसानों ने कभी सोचा तक नही था। माईसेम सीमेंट फैक्ट्री द्वारा किसानों के खेत के बाजू में ही ब्लास्टिंग करवा दी जिससे धूल एवं पत्थर बडे बडे बोल्डर किसानों के खेत में गिरने से फसल बर्बाद हो गई लेकिन सीमेंट फैक्ट्री का कोई भी अधिकारी कर्मचारी देखने नहीं आया किसान अपनी शिकायत को लेकर पुलिस थाना पहुंचे तो थाना प्रभारी ने भी मना कर दिया कि आप रिपोर्ट लिखवा कर लाए हमारे यहां कोई लिखने वाला नहीं है ग्राम सतपारा सूखा के  किसान लगातार सीमेंट फैक्ट्री की रणनीति से परेशान है कनछेदी खान निजाम खान ने बताया कि शनिवार की शाम 6रू00 बजे हम लोग वहीं खेत पर थे कि अचानक खेत के बाजू में ही बहुत हैवी ब्लास्टिंग कर दी गई जिस से पूरी तरह खेत में दरारें बड़े-बड़े पत्थर में मिट्टी धूल के कारण पूरी खेती बर्बाद हो गई यहां तक कि पानी के लिए डाले गए पाइप डोरी   जलकर नष्ट हो गए हम लोगों द्वारा इसकी शिकायत माईसेम सीमेंट फैक्ट्री से की लेकिन यहां हम लोगों की समस्या देखने कोई नहीं पथरिया पुलिस थाने रिपोर्ट करने पहुंचे तो थाना प्रभारी ने रिपोर्ट लिखने से ही मना कर दिया कनछेदी खान निजाम खान अशोक पुरी गोस्वामी लल्लू गिरी गोस्वामी संदीप पटेल ने बताया कि माईसेम द्वारा  हम लोगों के लिए लगातार परेशान किया जा रहा है फैक्ट्री की ब्लास्टिंग के कारण भाई फसलें बर्बाद हो गई खेतों में धूल ही धूल नजर आती है यहां तक कि खेत के बाजू से ही सटा कर ब्लास्टिंग कर दी जाती है जिससे कि  पत्थर खेतों में गिरते हैं हम लोगों के लिए अपनी जान बचाकर भागना पड़ता है यहां पर और दबंगता से  सभी लोग परेशान हैं जमीनों के नंबर भी अलटी पलटी करवा दिए जाते हैं

/ Madhya_Pradesh      Nov 15 ,2017 13:22