ममता बनर्जी के खास रहे मुकुल रॉय बीजेपी में शामिल, मनमोहन सरकार में रह चुके हैं थे रेल मंत्री / delhi

ममता बनर्जी के खास रहे मुकुल रॉय बीजेपी में शामिल, मनमोहन सरकार में रह चुके हैं थे रेल मंत्री

@lionnews.in
नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनाव अगली साल है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने यहा जोड़ तोड अभी से शुरू कर दिया है। बीजेपी ने सबसे पहलें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खासमखास रहे तृणमूल कांग्रेस के पूर्व सांसद और और पूर्व रेल मंत्री मुकुल रॉय को अपने खेमें में शामिल कर लिया है। मुकुल रॉय ने नई दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की मौजूदगी में उन्होंने पार्टी की सदस्यता ली। बाद में उन्होंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और रेल मंत्री पीयूष गोयल से भी मुलाकात की। बता दें कि बीजेपी पश्चिम बंगाल में अपनी जड़ें जमाने की कोशिशों में जुटी है। इसी कड़ी में बीजेपी ने ममता के दाहिना हाथ कहे जाने वाले मुकुल रॉय को अपने पाले में किया है।
           मुकुल रॉय मौके पर चैका मारने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने यहा भी वहीं किया रॉय ने इस मौके पर कहा कि यह उनके लिए गौरव की बात है कि वो अब पीएम मोदी की छत्रछाया में काम करेंगे। बीजेपी की तारीफ करते हबुए मुकुल रॉय ने कहा कि बीजेपी कम्यूनल नहीं सेक्यूलर पार्टी है। उन्होंने कहा कि बीजेपी की वजह से ही पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस इस मुकाम पर पहुंच सकी है। उन्होंने कहा कि साल 1997 में टीएमसी का गठन हुआ और 1998 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। बाद में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में टीएमसी शामिल भी हुई थी। रॉय ने कहा कि अब बीजेपी पश्चिम बंगाल की सत्ता पर काबिज होगी। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मुकुल रॉय के बीजेपी में आने से पार्टी मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि रॉय ने बिना किसी शर्त के पार्टी में शामिल होने की इच्छा जताई थी। रविशंकर ने कहा कि मुकुल रॉय टीएमसी के संस्थापकों में से एक हैं। इन्होंने सीपीएम के अत्याचार और आतंक के खिलाफ मजबूती से लड़ाई लड़ी है।
आप को बता दे यह पहले ही तय हो चुका था। कुछ दिनों पहले ही दुर्गा पूजा के समय मुकुल रॉय ने झटका देते हुए तृणमूल कांग्रेस छोड़ने का एलान किया था। इसके बाद तृणमूल कांग्रेस ने उन्हें 6 साल के लिए पार्टी से निलंबित कर दिया था। थे। मुकुल का नाम शारदा चिटफंड घोटाले में भी आ चुका है। यूपीए सरकार.2 में मुकुल रॉय 20 मार्च 2012 से 21 सितंबर 2012 तक रेल मंत्री रह चुके हैं। उन्हें ममता ने तब रेल मंत्री बनवाया था जब उनकी ही पार्टी के दिनेश त्रिवेदी ने बतौर रेल मंत्री रेल बजट में यात्री किराया बढ़ाने का एलान किया था।

/ delhi      Nov 03 ,2017 14:20