ट्विटर के पर कतरने आया चूहा, मूषक स्वदेशी सोशल  नेटवर्क bhopal / Madhya_Pradesh

ट्विटर के पर कतरने आया चूहा, मूषक स्वदेशी सोशल नेटवर्क

भोपाल। पूरे विश्व में ट्विटर ने अपनी चिड़िया को खुब उडाया लेकिन भारतीय युवाओं ने ट्विटर चिड़िया के पर कुतरने के लिए चुहा छोड दिया है। मूषक नाम से भारतीय युवाओं ने स्वभाषा में देश का पहला स्वदेशी सोशल नेटवर्क तैयार किया है। मूषक के संस्थापक अनुराग गौड़ ने मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मीड़िया से चर्चा की एंड्राइड एप और वेब साईट दोनों ही रूपों में इन्टरनेट पर मौजूद यह सोशल नेटवर्क देश की तमाम देशी भाषाओं पर उपलब्ध है। अनुराग की माने तो यह देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण और सम्पूर्ण रूप से भारतीय और भारतीय युवाओं द्वारा तैयार किया गया हैं। यह पूर्ण रूप से पहला स्वदेशी नेटवर्क है।

जाने क्या है मूषक
हमारे सारे सोशल नेटवर्क विदेशी हैं जिनमें अंग्रेजी भाषा का उपयोग होता है। जबकि मूषक भारतीय भाषाओं पर लिखने की स्वतंत्रता देता है। यहाँ आकर अपनापन महसूस होता है।

bhopal / Madhya_Pradesh      Sep 13 ,2017 17:39