राजस्व प्रकारणों का निराकरण समय सीमा में करें : कलेक्टर / Madhya_Pradesh

राजस्व प्रकारणों का निराकरण समय सीमा में करें : कलेक्टर

भोपाल | कलेक्टर सुदाम खाडे ने जिले के सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे अपने-अपने न्यायलयों में दर्ज नामांतरण, सीमाकंन, बंटवारे, जैसे प्रकरणों का निराकरण शीघ्रता से करें ताकि नागरिकों को अनावश्यक परेशानी न हों। उन्होने आज कलेक्टर सभाकक्ष में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में निर्देश दियें कि राजस्व न्यायालयों के प्रकरणों के निराकरण को राजस्व विभाग के पोर्टल आर.सी.एम.एस. पर भी अवश्य दर्ज करें। बैठक में अपर कलेक्टर श्री रत्नाकर झा, श्री जी.पी.माली एवं श्रीमती दिशा नागवंशी, के साथ-साथ जिले के सभी एस. डी.एम. व तहसीलदार भी मौजूद थे। कलेक्टर ने बैठक में कहा कि राजस्व अधिकारी, प्रकरणों का निराकरण तो करते हैं लेकिन राजस्व विभाग के आर.सी.एम.एस. पोर्टल पर दर्ज न होने से उनका निराकण प्रदेश स्तर पर होने वाली समीक्षा में प्रदर्शित नही होता है। उन्होने कहा कि आवेदकों को यह बताया जाये कि वे नामांतरण, सीमांकन, बंटवारे, जैसे अपने राजस्व विभाग संबंधी आवेदन लोक सेवा केंद्रो या एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से जमा करायें ताकि उन्हे कार्यालयों के चक्कर न लगाने पडे और समय सीमा में उनका काम भी हो जाए। उन्होने कहा कि लोकसेवा केंद्रो के संचालको को निर्देशित किया जाये कि वे राजस्व प्रकरणो संबंधी आवेदनों को लोकसेवा पोर्टल के साथ-साथ आर.सी.एम.एस. पोर्टल पर भी दर्ज करें ताकि जिले की सही सही प्रगति प्रदर्शित भी हो।
/ Madhya_Pradesh      Jul 15 ,2017 17:08