दिग्विजय  ने याद दिलाया 'भोपाल डिक्लेरेशन' / Madhya_Pradesh

दिग्विजय ने याद दिलाया 'भोपाल डिक्लेरेशन'

@lionnews.in

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह की नर्मदा यात्रा पूरी हो गई है। अब उनकी वापसी राजनीति के साथ ही सोशल मीडिया पर भी हो गई है। दिग्विजय सिंह ने बाबा साहेब आंबेडकर की जयंती पर ट्वीट करते हुए भोपाल डिक्लेरेशन की याद दिलाई है।   दिग्विजय सिंह ने आंबेडकर जयंती के दिन से ट्विटर पर सक्रिय हो गए। उनकी वापसी से पहले ही बीजेपी सक्ते में हो। भारतीय जनता पार्टी को चोकाते हुए कांग्रेस महासचिव ने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए है।

दिग्विजय सिंह ने पहला ट्वीट किया है कि "आदिवासी, दलित, पिछड़ा वर्ग को इतिहास में पहली बार क़ानूनी हक 1950 में संविधान ने दिए. 68 सालों में इस नींव पर जो जागरूकता-सशक्तिकरण संभव हुए, उसके चलते ये वर्ग अब बाबा साहब के सपने को साकार करने की स्थिति में पहुँच गए हैं." 

दिग्विजय सिंह ने दूसरा ट्वीट किया हैं-

"इस संकेत को सभी उपेक्षा करने वाले लोगों को समझना चाहिए. आदिवासी, दलित, पिछड़े वर्ग की न्याय यात्रा का एक महत्वपूर्ण पड़ाव 2002 का ‘भोपाल डिक्लेरेशन’ था जिसे मैंने बतौर मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश में लागू किया था"

दिग्विजय सिंह ने तीसरे ट्वीट में लिखा है- "क़ानूनी समानता के साथ सामाजिक और आर्थिक समानता ही भारतीय संविधान का सच्चा लक्ष्य है और बाबा साहब को सच्ची श्रद्धांजलि है" बही अब तक बीजेपी की तरफ से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नही आई है। 

/ Madhya_Pradesh      Apr 14 ,2018 07:26